विशेष वार्ता

महाशिवरात्री संदेश - वंडर बुक ऑफ रिकार्ड इंटरनॅशनल, लंदन

लाईव्ह अपडेट :  
शुभवार्ता >>  बीकेवार्ता पाठक संख्या एक करोड के नजदिक -  दिनदूगीनी रात चौगुनी बढरही  पाठकसंख्या बीकेवार्ता की ---- पाठको को लगातार नई जानकारी देनें मेे अग्रेसर रही बीकेवार्ता , इसी नवीनता के लिए पाठको का आध्यात्तिक प्यार बढा ---- सभी का दिलसे धन्यवाद --- देखीयें हमारी नई सेवायें >>>  ब्रहमाकुमारीज द्वारा आंतरराष्टीय सेवायें  | ब्रहमाकुमारीज वर्गीकत सेवायें |आगामी कार्यक्रम | विश्व और भारत महत्वपूर्ण दिवस | विचारपुष्प |


 

२८ जनवरी (केशोद) नशामुक्ती अभियान का आयोजन.

२८ जनवरी (केशोद) नशामुक्ती अभियान का आयोजन. 

२७ जनवरी (बिलासपूर) सफलता के सूत्र पर विचार व्यक्त करना बहुत आवश्यक

२७ जनवरी (बिलासपूर) सफलता के सूत्र पर विचार व्यक्त करना बहुत आवश्यक. बी.के. संगीता ने एनएसएस कॅम्प को किया सम्बोधित.

२६ जनवरी (अकोला) ब्रह्माकुमारीज् शान्ति यात्रा

२६ जनवरी (अकोला) ब्रह्माकुमारीज् शान्ति यात्रा. ब्र.कु. उषादीदी, माऊट आबू के स्वागत में आयोजन.

२५ जनवरी (मुंबई) ब्र.कु. योगिनी बहन सम्मानित

२५ जनवरी (मुंबई) ब्र.कु. योगिनी बहन सम्मानित. एनएपीसीओएन सम्मेलन में किया सम्मान.

२४ जनवरी (बिलासपूर) स्वयं खुश रहकर दुसरों को खुशी बाटे-

२४ जनवरी (बिलासपूर) स्वयं खुश रहकर दुसरों को खुशी बाटे- ब्रह्माकुमारी मंजू

२३ जनवरी (आर.के.नगर) भारत की उत्थान और पतन की कहानी को जाने

२३ जनवरी (आर.के.नगर) भारत की उत्थान और पतन की कहानी को जाने. ब्रह्माकुमारी मंजू दिदी

२२ जनवरी (रायपूर) हम सुधर जाये तो दुनिया सुधर जायेंगी

२२ जनवरी (रायपूर) हम सुधर जाये तो दुनिया सुधर जायेंगी. श्रीमती द्रोपदी मुर्मु, राज्यपाल झारखंड. वि·ा परीवर्तन राष्ट्रीय योजना का उदघाटन.

२१ जनवरी (आरकेनगर) कर्माे की गती सदा सामने रखें - ब्र.कु. समीक्षा

२१ जनवरी (आरकेनगर) कर्माे की गती सदा सामने रखें - ब्र.कु. समीक्षा

२० जनवरी (ऑस्ट्रेलिया) द फ्युचर ऑफ पावर रिट्रीट

२० जनवरी (ऑस्ट्रेलिया) द फ्युचर ऑफ पावर रिट्रीट. निझार भाईजी का आयोजन.

१९ जनवरी (पुना) ब्र.कु. सुरेखा समाजरत्न से सम्मानित

१९ जनवरी (पुना) ब्र.कु. सुरेखा समाजरत्न से सम्मानित. ब्र.कु. अजितदादा पवार ने किया सम्मान.

१८ जनवरी (बार्शी) सर्वधर्म संमेलन.

१८ जनवरी (बार्शी) सर्वधर्म संमेलन. 

१७ जनवरी (कोलकता) महिला सशक्तिकरण रॅली का शुभारम्भ

१७ जनवरी (कोलकता) महिला सशक्तिकरण रॅली का शुभारम्भ

१६ जनवरी (जबलपूर) अदभूत यात्रा है जीवन,

१६ जनवरी (जबलपूर) अदभूत यात्रा है जीवन, और वि·ाास के पहियों पर चलें सफलता की यात्रा. ब्र.कु. सुरेशभाई

१५ जनवरी (बिलासपूर) भावना की भाषा सभी के हृदय को स्पर्ष कर सकती है

१५ जनवरी (बिलासपूर) भावना की भाषा सभी के हृदय को स्पर्ष कर सकती है - ब्र.कु. मंजूषा दीदी.

१४ जनवरी (देहली) हाफ मॅरेथॉन में ब्रह्माकुमारीज्.

१४ जनवरी (देहली) हाफ मॅरेथॉन में ब्रह्माकुमारीज्. देहली एअरटेल मॅरेथॉन में ब्रह्माकुमारीज्

१३ जनवरी (मास्को) ब्रह्माकुमारीज् को निमंत्रण.

१३ जनवरी (मास्को) ब्रह्माकुमारीज् को निमंत्रण. भारतीय महिलाओं के कार्यक्रम के लिए भारतीय दुतावास ने ब्र.कु. सुधाबहनजी को दिया निमंत्रण.

१२ जनवरी (नई देहली) जयवायू परिवर्तन संमेलन

१२ जनवरी (नई देहली) जयवायू परिवर्तन संमेलन. दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का उदघाटन.

११ जनवरी (केशोद) वाह जिंदगी वाह.

११ जनवरी (केशोद) वाह जिंदगी वाह. सेमिनार का उदघाटन.

१० जनवरी (रायपूर) सुपाच्य भोजन और मेडिटेशन से डायबेटिक पर नियंत्रण.

१० जनवरी (रायपूर) सुपाच्य भोजन और मेडिटेशन से डायबेटिक पर नियंत्रण. डॉ. साहू

०९ जनवरी (अमरीका) वल्र्ड पार्लियामेंट में ब्रह्माकुमारीज्

०९ जनवरी (अमरीका) वल्र्ड पार्लियामेंट में ब्रह्माकुमारीज्. बीके डा बीन्नी बहनने किया सम्बोधित.

०८ जनवरी (अहमदनगर) वल्र्ड रिकार्ड.

०८ जनवरी (अहमदनगर) वल्र्ड रिकार्ड. त्रिपूरा पूर्णीमा के अवसरपर ५५५९ दिए जलाकर किया नया र्किर्तीमान.

०७ जनवरी (देहली) स्पार्क सम्मेलन.

०७ जनवरी (देहली) स्पार्क सम्मेलन. ओमशान्ति रिट्रीट सेंटर में किया आयोजन.

२८ फरवरी (आबूरोड) मुख्यालय में मनाया गया ६८ वा गणतंत्र दिवस.

२७ फरवरी (टिकरापारा) जीवन में खुशियों का आधार अच्छे विचार- संजय भाई, माऊंट आबू से विशेष पधारे.

२६ फरवरी (मुंबई) रोड सेफ्टी हेतु मन को जोडें. ट्रासन्पोर्ट विंग का कार्यक्रम.

२५ फरवरी (भिलवाडा) मूल्यों को बनाये रखने तथा चुनोतिया का सामना करने लिए आत्मबल की आवश्यकता

२४ फरवरी (मेंगलौर) ऑस्कर फर्नांडिस ने सेवाकेंद्र की भेट की.

२३ फरवरी (टेकनपूर:म.प्र.) बीएसएफ अ‍ॅकेडमी में वर्कशॉप

२२ फरवरी (मास्को) बच्चों की सुरक्षा के लिए विशेष कार्यक्रम.

२१ फरवरी (पिंपरी) मेडिकल विंग का सेमिनार. तनाव से मुक्ती.

२० फरवरी (बिलासपूर) ब्रह्माकुमारीज् मार्ग का उदघाटन.

१९ फरवरी (आबूरोड) राजस्थान गौरव अवार्ड बी.के. भारत को.

१८ फरवरी (बंगलौर) शिक्षा संमेलन.

१७ फरवरी (निमूच) जिलास्तर पत्रकार सम्मेलन

१६ फरवरी (कानपूर) भ्राता रामनाईक से मिले ब्रह्माकुमारीज्

१५ फरवरी (बार्शी) मेडिटेशनसे मन:शान्ति मिलती.

१४ फरवरी (टिकरापारा) जीवन में सफलता के लिए आध्यात्मिक ज्ञान जरुरी

१३ फरवरी (अमरीका) डा. बिन्नी को अ‍ॅम्बेसिडर फार पीस अवार्ड-२०१६.

१२ फरवरी (मुंबई:दादर) विसडम फार ब्लिसफुल लाईफ. बी.के. शिवानी ने किया सम्बोधित.

११ फरवरी (बोरवली:मुंबई) इनरपीस, इनर पावर. बी.के. शिवानी का सम्बोधन.

१० फरवरी (शारजहा) ग्लोबल लिडरशीप अवार्ड २०१६ दादी जानकीजी को.

०९ फरवरी (सांताक्रुज:मुंबई) आंतरराष्ट्रीय सहिष्णुता दिवस मनाया गया.

०८ फरवरी (देहली) पुलिस स्टाप के लिए तनाव व्यवस्थापन कार्यशाला 

०७ फरवरी (बिलासपूर) तनाव मुक्ती कार्यशाला.

०५ फरवरी (देहली) सिक्युरीटी सर्विसेस प्रभाग सेमिनार संपन्न

०४ फरवरी (विशाखापट्टणम) मीडिया सेमिनार संपन्न.

०३ फरवरी (विजयवाडा) मीडिया सम्मेलन का उदघाटन किया आय.टी. तथा पी.आर. मिनीस्टरने.

०२ फरवरी (ब्रहमपूर:ओडिसा) सकारात्मक परिवर्तन के लिए मीडिया.

०१ फरवरी (आबूरांेड) राष्ट्रीय उर्जा संरक्षण दिवस मनाया गया.

३१ जनवरी (बिलासपूर) परमात्मा का यथार्थ परिचय प्राप्त नही होने के कारण

३० जनवरी (अकोला) गीता ज्ञान का भव्य आयोजन

२९ जनवरी (भिलाई) धनसे हम केवल मुर्ति खरीद सकतें है श्रध्दा नही. राज्यपाल

२८ जनवरी (केशोद) नशामुक्ती अभियान का आयोजन.

२७ जनवरी (बिलासपूर) सफलता के सूत्र पर विचार व्यक्त करना बहुत आवश्यक

२६ जनवरी (अकोला) ब्रह्माकुमारीज् शान्ति यात्रा

२५ जनवरी (मुंबई) ब्र.कु. योगिनी बहन सम्मानित

२४ जनवरी (बिलासपूर) स्वयं खुश रहकर दुसरों को खुशी बाटे-

२३ जनवरी (आर.के.नगर) भारत की उत्थान और पतन की कहानी को जाने

२२ जनवरी (रायपूर) हम सुधर जाये तो दुनिया सुधर जायेंगी

२१ जनवरी (आरकेनगर) कर्माे की गती सदा सामने रखें - ब्र.कु. समीक्षा

२० जनवरी (ऑस्ट्रेलिया) द फ्युचर ऑफ पावर रिट्रीट

१९ जनवरी (पुना) ब्र.कु. सुरेखा समाजरत्न से सम्मानित

१८ जनवरी (बार्शी) सर्वधर्म संमेलन.

१७ जनवरी (कोलकता) महिला सशक्तिकरण रॅली का शुभारम्भ

१६ जनवरी (जबलपूर) अदभूत यात्रा है जीवन,

१५ जनवरी (बिलासपूर) भावना की भाषा सभी के हृदय को स्पर्ष कर सकती है

१४ जनवरी (देहली) हाफ मॅरेथॉन में ब्रह्माकुमारीज्.

१३ जनवरी (मास्को) ब्रह्माकुमारीज् को निमंत्रण.

१२ जनवरी (नई देहली) जयवायू परिवर्तन संमेलन

११ जनवरी (केशोद) वाह जिंदगी वाह.

१० जनवरी (रायपूर) सुपाच्य भोजन और मेडिटेशन से डायबेटिक पर नियंत्रण.

०९ जनवरी (अमरीका) वल्र्ड पार्लियामेंट में ब्रह्माकुमारीज्

०८ जनवरी (अहमदनगर) वल्र्ड रिकार्ड.

०७ जनवरी (देहली) स्पार्क सम्मेलन.

०६ जनवरी (रायपूर) इन्डोर स्टेडियम बुढापारा में अलविदा.

०५ जनवरी (आबूरोड) सर्व धर्म सम्मेलन.

०४ जनवरी (बिलासपूर) उन्नती के लिए संग का ध्यान रखे.

०३ जनवरी (देहली:ओआरसी) डायबेटिक कंट्रोल के लिये कार्यक्रम.

 

०२ जनवरी (देहली) वार्षिकोत्सव का आयोजन.

०१ जनवरी (भिलाई) ब्रह्माकुमारीज् झारखण्ड गवर्नरजी को ई·ारीय संदेश.

 


३१ दिसम्बर (देहली) भाईजीने मीडिया को मूल्यनिष्ठ मनाया.

३० दिसम्बर (बिलासपूर) विचारों को श्रेष्ठ दिशा प्रदान करती है आध्यात्मिकता

२९ दिसम्बर (रायपूर) प्रतिस्पर्धा न करें,

२७ दिसम्बर (रायपूर) स्वर्ग और नर्क इसी दुनिया में होते है.

२६ दिसम्बर (नवीमुंबई) परमात्म ज्ञानद्वारा स्वर्णीम संसार की स्थापना.

२५ दिसम्बर (बोरवली:वेस्ट,मुंबई) क्लाम इन क्रायसीस.

२४ दिसम्बर (अहमेदाबाद) भ्राता अर्जुन मेघवालजी की सेवाकेंद्र पर भेट.

२३ दिसम्बर (नेपेनसी रोड:मुंबई) दादी प्रकाशमणी चौक का नामाकरण.

२२ दिसम्बर (गुडगांव) ओआरसी मंे दादी गुलझार समवेत दिपोत्सव.

२१ दिसम्बर (न्यू जर्सी:युएसए) द फ्युचर ऑफ पावर. बी.के. निझार जुमा ने किया आयोजन.

२० दिसम्बर (बिलासपूर) रंगोली से दिया ई·ारीय संदेश.

१९ दिसम्बर (आबूरोड) शिवमणी होम ने मनाया ६ वाँ स्थापना दिवस.

१८ दिसम्बर (सिलीकॉन वैली) ब्रह्माकुमारीज् की ओरसे दिपोत्सव का आयोजन.

१७ दिसम्बर (अजमेर) टोल्फा की चिल्ड्रन वर्क बुक का विमोचन.

१६ दिसम्बर (कानपूर) दादी रतनमोहिनीजी की विदेश सेवायात्रा

15 दिसम्बर (शान्तिवन) ग्लोबल हॉस्पिटल में रजत जयंती कार्यक्रम.

14 दिसम्बर (बोस्टन:युएसए) द फ्युचर

13 दिसम्बर (आबूरोड) मोहिनी बहनजी,

12 दिसम्बर (आबूरोड) बी.के.मेहर मित्तल को भावभिनी श्रद्धंाजली.

11 दिसम्बर (बिलासपूर) मन की शांति के लिए प्रभावकारी टेक्निक है

10 दिसम्बर (अहमदाबाद) कब्बड्डी वर्ल्ड कप खिलाडीयों का अभिनंदन.

09 दिसम्बर (अहमदाबाद) कब्बड्डी वर्ल्ड कप खिलाडीयों के लिए माईंड पावर गेम

08 दिसम्बर (बिलासपूर) नेहरु युवा केंद्र पर प्रशिक्षण.

07 दिसम्बर (देहली) दिल्ली इंडियन मेडिकल एसो.

06 दिसम्बर (गामदेवी:मुंबई) ग्लोबल इनिशिएटीव ऑन टोबेको अवेअरनेस.

05 दिसम्बर (भांडूरी:गुजरात) चैतन्य देवीयों की झॉकी का सफल आयोजन.

04 दिसम्बर (बिलासपूर) विकारों पर विजय का प्रतिक है विजयादशमी

03 दिसम्बर (अमरिका) बहन डेनिस की सेवा यात्रा.

02 दिसम्बर (पिंपरी:पुना) भव्य नवदुर्गा झाँकि का आयोजन.

01 दिसम्बर (अहेमदाबाद) अभिषेक बच्चनजी को ईश्वरीय संदेश

 


30 नवम्बर (देहली) जैविक और यौगिक खेती.

29 नवम्बर (बिलासपूर) आर.के.नगर में कार्यक्रम का आयोजन.

28 नवम्बर (नई देहली) अखिल भारतीय विधी सम्मेलन.

27 नवम्बर (अहमदाबाद) कब्बडी वर्ल्ड कप-2016 के लिए शुभकामनायें.

26 नवम्बर (चंद्रपूर) गर्ल्स महाविद्यालय में कार्यक्रम.

25 नवम्बर (आबू रोड) पीडितों की सेवा करना सबसे बडा पुण्य:

24 नवम्बर (फिलिपाईन्स) सिस्टर निर्मला की सेवायात्रा.

23 नवम्बर (बीरगुंज:नेपाल) गॉडस् विसडम फॉर वर्ड ट्रान्सफरमेशन.

22 नवम्बर (नई देहली) सबका मालिक एक - इंटरफेथ सुमिट

21 नवम्बर (गुडगांव) ओआरसी में शान्ति के लिए यात्रा.

20 नवम्बर (मलेशिया) सिस्टर निर्मला की सेवायात्रा.

19 नवम्बर (भिलाई) केंद्रीय जेल दुर्ग में कार्यक्रम.

18 नवम्बर (रायपूर) आंतरराष्ट्रीय वृध्द दिवस मनाया.

17 नवम्बर (लखनऊ) किसान सशक्तिकरण सम्मेलन.

16 नवम्बर (कडप्पा:आ.प्र.) स्वच्छ भारत अभियान में मीडिया की भ्ूमिका.

15 नवम्बर (अहमदाबाद) नारी सशक्तिकरण अभियान का उदघाटन.

14 नवम्बर (चेन्नई) ब्रह्माकुमारीयां वैश्विक कल्याण का कार्य करती

13 नवम्बर (शान्तिवन) वर्ल्ड कांग्रेस प्रिवेन्टिव कार्डियोलोजी सम्मेलन का उदघाटन.

12 नवम्बर (शान्तिवन) सामाजिक परिवर्तन के लिए आध्यात्मिक प्रज्ञा

11 नवम्बर (ज्ञानसरोवर) हमारे आचार्य, वैज्ञानिक, शिक्षक और ऋषीमुनी हमारी शक्ति है.

10 नवम्बर (विलेपार्ले:मुंबई) साक्षी मलिक को ईश्वरीय संदेश.

 09 नवम्बर (शान्तिवन) आर्ट और कल्चर प्रभाग संमेलन उदघाटन.

07 नवम्बर (नवी मुंबई) ब्रह्माकुमारीज् श्री वर्धमान जैन समाजद्वारा सम्मानित.
06 नवम्बर (भिलाई) जिला शिक्षा अधिकारी को ईश्वरीय संदेश.

05 नवम्बर (कॅनडा) ब्र.कु. आत्मप्रकाशजी की सेवायात्रा.

04 नवम्बर (शान्तिवन) दादी रत्नमोहिनीजीने किया उदघाटन

03 नवम्बर (बिलासपूर) समाज परिवर्तन में शिक्षक की भूमिका अहम्

02 नवम्बर (शान्तिवन) शिक्षकों का सम्मान.

01 नवम्बर (शान्तिवन) श्रेष्ठ समाज एवं संस्कार का निर्मिाता है शिक्षक

31 अक्तुबर (मा. आबू)राजनिती में दिव्यता का आभार दूर होगा सत्य से

30 अक्तुबर (विजयवाडा) चैतन्य देवीयों की झाँकी.

29 अक्तुबर (महेसाना) अखिल भारतीय कृषि वैज्ञानिकों एंव स्नेह मिलन

28 अक्तुबर (हैद्राबाद) पी.वी. सिंधू को दिया ईश्वरीय संदेश

27 अक्तुबर (बोरवली) सोनु निगम को ईश्वरीय संदेश

26 अक्तुबर (अहमदनगर) ब्रह्माकुमारीज् द्वारा वर्ल्ड रिकार्ड.

25 अक्तुबर (रायपूर) सुरक्षा बलों को तनाव से मुक्त रखना जरुरुी

24 अक्तुबर (देहली) भ्राता सुरेश प्रसाद को ईश्वरीय संदेश

23 अक्तुबर (विजयवाडा) भ्राता चंद्राबाबू नायडू से मिले मृत्युंजय भा

22 अक्तुबर (देहली) डॉ. डि. सुरेश ने किया उद्धाट

21 अक्तुबर (ज्ञानसरोवर) आध्यात्मिकता को अपने जीवन में स्थान दें

20 अक्तुबर (अमरीका) ब्रह्माकुमारीज् सिलीकॉनी व्हॅली में राजयोग कार्यक्रम.

19 अक्तुबर (देहली) युनियन मिनीस्टर को ईश्वरीय संदेश.

18 अक्तुबर (कोलंबो) बी के उर्मील बहनजी की श्रीलंका सेवायात्रा.

17 अक्तुबर (नोयडा) मीडिया सेवा.

16 अक्तुबर (विक्रोली:मुंबई)तृतिय पंथीयों के लिए कार्यक्रम.

15 अक्तुबर (शिलाँग)राज्यपाल महोदयजी को ईश्वरीय संदेश

14 अक्तुबर (मंगलौर) राज्य भाजपा अध्यक्ष को ईश्वरीय संदेश.

13 अक्तुबर (शान्तिवन) दादी प्रकाशमणीजी मैराथन.

12 अक्तुबर (जगन्नाथपुरी) धार्मिक प्रभाग सेवा.

11 अक्तुबर (राजकोट) मुख्यमंत्री महोदयजी से अभिवादन

10 अक्तुबर (काठमांडू:नेपाल) राष्ट्राध्यक्ष समवेत ज्ञानचर्चा. राट्रअध्यक्ष

09 अक्तुबर (भद्रक:उडिसा) ब्रह्माकुमार भगवानभाई का प्रवचन.

08 अक्तुबर (चंदिगढ़) राज्यपाल महोदयजी के साथ ज्ञानचर्चा.

07 अक्तुबर (पटना:बिहार) राजनेताओं को ईश्वरीय संदेश.

06 अक्तुबर (देहली) पाण्डवभवन में दादी गुलजारजी

05 अक्तुबर (राजकोट) भ्राता वीजूभाई वालाजी को ईश्वरीय संदेश.

04 अक्तुबर (पिंपरी:पुना)वीआयपी स्नेहमीलन.

03 अक्तुबर (अर्जेटीना) दादी चक्रधारीजी की सेवायात्रा.

02 अक्तुबर (मंदुरा-कच्छ) बेटी बचाओ - सशक्त बनाओ.

01 अक्तुबर (रिओ) ऑलम्पिक विजेती साक्षी को ईश्वरीय संदेश.

30 सितम्बर (इंडोनिशीया) भारतीय मूल नागरीकों के साथ ज्ञानवार्तालाप.

29 सितम्बर (त्रिवेद्रम) राज्यपाल महोदय से ज्ञानवार्ता.

28 सितम्बर (भद्रक:ओडिसा) गुंगे बहरे बच्चें के लिए प्रवचन

27 सितम्बर (राउरकेला:उडिसा.) केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के लिए प्रवचन.

26 सितम्बर (रायपूर) राजयोग से आएगी जीवन में सुख-शान्ति - ब्र.कु. सवितादीदी.

25 सितम्बर (कॅलिफोर्निया) ब्र.कु. आशादीदीजी के सेवा यात्रा.

24 सितम्बर (शान्तिवन) स्वर्णीम भारत देशभक्ति संगीत प्रतियोगीता.

23 सितम्बर (नारायणगढ:नेपाल) युवाओं का सशक्तिकरण

22 सितम्बर (चंद्रपूर) देवियों की झाँकी का आयोजन

21 सितम्बर (भरतपुर:चितवन)हामो एफ एम पर भगवानभाई

20 सितम्बर (भंडुरी:गुज.) श्रीगणेजी का आध्यात्मिक रहस्य

19 सितम्बर (तांडी:चितवन) नेपाल में सकारात्मक चिंतन पर चर्चा.

18 सितम्बर (बिलासपूर-टिकारापारा) आध्यात्मिक झाँकि.

17 सितम्बर (बिलासपूर) विशेषता देखने का चष्मा पहनो.

16 सितम्बर (मालिया हाटीन:गुज.) रेल कर्मचारीयों को संदेश.

15 सितम्बर (बार्शी:महा.) बच्चों का स्नेहमिलन

14 सितम्बर (बालगाम:गुज.) स्नेहमिलन.

13 सितम्बर (केशोद:गुज.) दिव्य संस्कार घडतर प्रोजेक्ट.

12 सितम्बर (मंगोलिया) नये राजदूत से ज्ञानवार्ता.

11 सितम्बर (म्हैसूर) मीडिया सम्मेलन.

10 सितम्बर (बांद्रा-खार-मुंबई) भ्राता अमिताभ बच्चनजी को बांधी राखी.

09 सितम्बर (रायपूर) मोटापा और एक्सरसाईज की कमी घुटने की समस्यामें वृध्दी के कारण.

08 सितम्बर (वाराणसी) भ्राता पाण्डेजी को इश्वरीय संदेश.

07 सितम्बर (ज्ञानसरोवर) ट्रान्पोर्ट और टॅव्हल विंग का सम्मेलन.

06 सितम्बर (फिलिपाईन्स) जयंती बहन और ज्युडि रोडर्जस की सेवायात्रा.

05 सितम्बर (तुर्की) गोलूभाई और डॉ. प्रताप मिढ्ढा जी की विदेश सेवायात्रा.

04 सितम्बर (अहमदाबाद) डिजिटल एज्युकेशन.

03 सितम्बर (शान्तिवन) दादी जानकी पार्क वेबसाईट का उदघाटन.

02 सितम्बर (रशिया) ब्रदर चार्लि की सेवायात्रा.

01 सितम्बर (तालापारा) मानसिक विकलांगता दूर करने के लिए राजयोग की भूमिका.

31 अगस्त (देहली) तालकटोरा स्टेडियम में कार्यक्रम.

30 अगस्त (देहली) ओआरसी में विशेष क्लास.

29 अगस्त (मधुबन) दादीने लगाई परिक्रमा.

28 अगस्त (महेसाना) ग्राम विकास प्रभाग की ट्रेनिंग.

27 अगस्त (आफ्रिका) बीके मोहन भाई सिंघल की विदेश यात्रा

26 अगस्त (पुणे) जिलास्तर मीडिया संमेलन संपन्न.

25 अगस्त (टिकरापारा) ज्ञानसुर्य परमात्मा के संग बढ़ती है आध्यात्मिक चमक

24 अगस्त (देहली) भ्राता जे.पी.नंदा को दिया निमत्रण.

23अगस्त (लंदन) बीके निवैरभाई भारत गौरव पुरस्कार से सम्मानित.

22 अगस्त (ज्ञानसरोवर) राजयोग से आती है जीवन में सादगी.

21 अगस्त (उदयपूर)सिक्युरिटी फोर्स के लिए योगाभ्यास.

20 अगस्त (ज्ञानसरोवर) प्रशासक प्रभाग संमेलन.

19 अगस्त (अमरीका) अनुभूती योगशिवीर का आयोजन.

18 अगस्त (यु.के.) सिस्टर डॉ. निर्मला जी की विदेश यात्रा.

17 अगस्त (बैतूल) सकारात्मकता के बिना समाज नही चल सकता-रंजन.

16 अगस्त (ज्ञानसरोवर) महिला प्रभाग सम्मेलन.

15 अगस्त (शान्तिवन) गॉडलीवूड टिम के साथ दादी

14 अगस्त (सुन्नी-शिमला) परमात्म अनुभूति आध्यात्मिक सम्मेलन

13 अगस्त (अंबरनाथ-मुंबई) शिवसेनाद्वारा सम्मानित.

12 अगस्त (त्रिनिदाद) डॉ. हेमलता को योगा डे अवा

11 अगस्त (बंगलौर सिटी) गुडबाय डायबेटीक

10 अगस्त (जर्मनी) आंतरराष्ट्रीय योग दिवसपर कार्यक्रम.

09 अगस्त (मुलुंड-ठाणे) इलनेस से वेलनेस कार्यक्रम संपन्न.

08 अगस्त (ग्वालियर) युवा सेवा प्रशिक्षण.

07 अगस्त (रायपूर) तकनीकी दृष्टि से उन्नत लोगों में अधिक तनाव.

06 अगस्त (ज्ञानसरोवर) परपीड़ा को अनुभवन करना सच्चा धर्म

05 अगस्त (रायपूर) योग से देश का गौरव बढा.

04 अगस्त (देहली) विश्व योग के लिए सांघिक प्रयास

03 अगस्त (शान्तिवन) भ्राता गुलाब कोठारीजी का आगमन.

02 अगस्त (हैद्राबाद) पब्लिक गार्डन पर कार्यक्रम.

01 अगस्त (गुवाहटी) मुख्यमंत्री महोदय से वार्तालाप

 


31 जुलाई (भुवनेश्वर) ओडिसा बँक में प्रवचन.

30 जुलाई (देहली) योग रन मिनी मॅरेथॉन.

29 जुलाई (देहली-) पाण्डव भवन में दादीजी की पधारमणी.

28 जुलाई (जयपूर) वैशाली नगर की ओर से योग कार्यक्रम.

27 जुलाई (ज्ञानसरोंवर) ग्रामविकास संमेलन का उदघाटन.

26 जुलाई (पॉडयुचेरी) बहन किरण बेदी से मिले ब्रह्माकुमारी.

25 जुलाई (गिदडबाहा-पंजाब) तनावमुक्ती पर प्रवचन.

24 जुलाई (पुणे-बाणेर) त्रिवेणी बहन सम्मानित.

23 जुलाई (टिकरापारा) परम सतगुरु का सम्मान ही बडा सम्मान.

22 जुलाई (पुणे) माइण्ड बॉडी मेडिसीन की ट्रेनिंग.

21 जुलाई (चंद्रपूर) सिल्वर ज्युबिली.

20 जुलाई (बार्शी) मीडिया गेट टुगेदर,

19 जुलाई (गेवरा दिपीक) सीईटीआई मं प्रवचन

18 जुलाई (बिलासपूर) प्रेम का गुण धारण करने से जीवन में सभी मूल्य आ जाते.

17 जुलाई (कोरबा) मातेश्वरी के स्मृती दिवस

16 जुलाई (भिलाई) ब्र कु सुरजभाई ने किया सम्बोधित

15 जुलाई (भंडुरीमालिया हटीना) योग दिवस पर कार्यक्रम

14 जुलाई (वणी) आंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कार्यक्रम

12 जुलाई (मालाड)योग दिवस के अवसर पर कार्यक्रम

11 जुलाई (हरिद्वार)योग शिविर. भ्राता हर्षेन्द्र, वनविभाग अधिकारी

10 जुलाई (केशोद)योग दिवस मनाया गया.

9 जुलाई (पिंपरी-पुणे) शुभभावना के लिए सात अरब योजना कार्यक्रम संपन्न.

8 जुलाई (बिलासपूर) ब्र.कु. मंजूदीदीने योग शिविर में किया सम्बोधन.

7 जुलाई (मथूरा:यू.पी.) तनावमुक्ती पर कार्यशाला.

6 जुलाई (मानिकपूर:कोरबा) श्रीमद भगवद गीता प्रवचन

5 जुलाई (मिरिक दार्जीलिंग) सेवाकेंद्र का वार्षिक उत्सव धुमधामसे

4 जुलाई (बिलासपूर) माऊंट आबू में सांस्कृतिक प्रस्तु

3 जुलाई (आसामलिगजी: सिक्कमी) नैतिक मूल्यों का पाठ पढाया

2 जुलाई (कोरबा) बाल व्यक्तित्व विकास शिविर संपन्.

1 जुलाई (दार्जीलिंग:प.ब.) राज्यपाल महोदय को दी जानकारी.

 


 

 


 

संग्रहित समाचार

महत्वपूर्ण खबरे


Joomla Templates and Joomla Extensions by JoomVision.Com
२८ फरवरी (आबूरोड) मुख्यालय में मनाया गया ६८ वा गणतंत्र दिवस.

२८ फरवरी (आबूरोड) मुख्यालय में मनाया गया ६८ वा गणतंत्र दिवस.

२८ फरवरी (आबूरोड) मुख्यालय में मनाया गया ६८ वा गणतंत्र दिवस.Read more...
२७ फरवरी (टिकरापारा) जीवन में खुशियों का आधार अच्छे विचार- संजय भाई, माऊंट आबू से विशेष पधारे.

२७ फरवरी (टिकरापारा) जीवन में खुशियों का आधार अच्छे विचार- संजय भाई, माऊंट आबू से विशेष पधारे.

२७ फरवरी (टिकरापारा) जीवन में खुशियों का आधार अच्छे विचार- संजय भाई, माऊंट आबू से विशेष पधारे.Read more...
२६ फरवरी (मुंबई) रोड सेफ्टी हेतु मन को जोडें. ट्रासन्पोर्ट विंग का कार्यक्रम.

२६ फरवरी (मुंबई) रोड सेफ्टी हेतु मन को जोडें. ट्रासन्पोर्ट विंग का कार्यक्रम.

२६ फरवरी (मुंबई) रोड सेफ्टी हेतु मन को जोडें. ट्रासन्पोर्ट विंग का कार्यक्रम.Read more...

अन्य ख़बरे

Joomla Templates and Joomla Extensions by JoomVision.Com
युवा शिविर का सफल आयोजन.

युवा शिविर का सफल आयोजन.

त्रिनिदाद) युवा शिविर का सफल आयोजन. टोका त्रिनिदाद मेंे हासन्ना बीच रिसोर्ट पर युवा शिविर का आयोजन किया गया. Read more...
सफल रही ईश्वरीय सेवा यात्रा.

सफल रही ईश्वरीय सेवा यात्रा.

(नैरोबी) सफल रही ईश्वरीय सेवा यात्रा. ब्र.कु. चंद्रिका बहन समवेत भाई बहनोंने नैरोबी निवासीयों को किया ईश्वरीय ज्ञान से भरपूरRead more...
डॉ जानकीजी को भारत गौरव अवार्ड.

डॉ जानकीजी को भारत गौरव अवार्ड.

(लंदन) डॉ जानकीजी को भारत गौरव अवार्ड. ब्रहमाकुमारीज मुख्य प्रशासिका राजयोगीनी दादी डॉ जानकीजी को लंदन में हाऊस ऑफ कामन्स में भारत गौरव अवार्ड से सम्मानित किया गया. दादीजी की…Read more...

 महाशिवरात्री संदेश -

वंडर बुक ऑफ रिकार्ड इंटरनॅशनल, लंदन


 

आज का मुरली प्रवचन

आज का मुरली प्रवचन सुबह 7 से 8 बजे तक देखीए आज की मुरली का वीडिओ B  
 

  28-02-17 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन 


“मीठे बच्चे– बाप आये हैं अनाथों को सनाथ बनाने, सबको दु:खों से छुड़ाकर सुखधाम में ले जाने”

प्रश्न:

कल्प-कल्प बाप अपने बच्चों को कौन सी आथत (धैर्य) देते हैं?

उत्तर:

मीठे बच्चे– तुम बेफिकर रहो, विश्व में शान्ति स्थापन करना, सर्व को दु:खों से छुड़ाना मेरा काम है। मैं ही आया हूँ तुम बच्चों को इस रावण राज्य से छुड़ाकर रामराज्य में ले चलने। तुम बच्चों को वापिस ले जाना मेरा ही फर्ज है।

गीत:

छोड़ भी दे आकाश सिंहासन...   

ओम् शान्ति।

धारणा के लिए मुख्य सार:

1) लाइट हाउस बनना है। एक आंख में शान्तिधाम, दूसरी आंख में सुखधाम फिरता रहे। इस दु:खधाम को देखते हुए भी नहीं देखना है।

2) बाप समान नॉलेज में फुल बन करके बेहद सुख लेने के लिए पूरा पुरूषार्थ करना है। जो नॉलेज मिली है वह दूसरों को देनी है।

वरदान:

बड़ी दिल रख सेवा का प्रत्यक्षफल निकालने वाले विश्व कल्याणकारी भव

जो बच्चे बड़ी दिल रखकर सेवा करते हैं तो सेवा का प्रत्यक्षफल भी बड़ा निकलता है। कोई भी कार्य करो तो स्वयं करने में भी बड़ी दिल और दूसरों को सहयोगी बनाने में भी बड़ी दिल हो। स्वयं प्रति वा साथी सहयोगी आत्माओं प्रति संकुचित दिल नहीं रखो। बड़ी दिल रखने से मिट्टी भी सोना हो जाती है, कमजोर साथी भी शक्तिशाली बन जाते हैं, असम्भव सफलता सम्भव हो जाती है। इसके लिए मैंमैं की बलि चढ़ा दो तो बड़ी दिल वाले विश्व कल्याणकारी बन जायेंगे।

स्लोगन:

कारण को निवारण में परिवर्तन करना ही शुभ- चिंतक बनना है।


 

 

 

 Click for full Murli:  More


बीकेवार्ता वेबपोर्टल : उदघाटन के ऐतिहासिक क्षण प्रकाशन शुभारम्भ दि 28 नवम्बर, 2009


 

बीकेवार्ता आर्टिकल बँक

बीकेवार्ता आर्टिकल बँक - ब्रहृमाकुमारीज वार्ता का अनोखा प्रयास  

आध्यात्मिक ज्ञान के आधार पर विभिन्न प्रकार के आर्टिकल्स्

इस आर्टिकल बँक की विशेषताएँ -

 1  लेख की भाषा निहाय कॅटेगरी बनी हुई है आपको इस कॅटेगरी को चुनना होगा, उसमे जो आर्टिकल होगे उस को सिलेक्ट कर आप डाऊनलोड कर सकतें है

इस हेतु अधिक विस्तत सहायता हेतू यहाँ क्लिक करें - विस्तत सहायता / जानकारी

आर्टिकल डाऊनलोड हेतू यहॉ क्लिक करें

 

आर्टिकल बँक के उद्देश्य :

बहूतसे सेवाकेंद्र की तथा प्रेस के भाई बहनों की माँग रहती है की उन्हें नये विषय पर ब्राहृाकुमारीज् आर्टिकल्स की आवश्यकता रहती है. जैसे मन की शांती, जीवन में सुख शांती प्राप्त करने की बातें, तनाव मुक्त जीवन आदि विषयोंपर समाचार पत्रों के लिए तथा पढने के लिए तथा दुसरों को समझाने हेतू आर्टिकल्स चाहिए और वह भी हिंदी तथा अपनी प्रादेशिक/रिजनल भाषाओं में, बीकेवार्ता ने इस बात को देखते हूए बहनों तथा भाइयों की मांग को कुछ हद तक पूरी करने का प्रयास किया है, ज्ञानसागर परमात्मा से कुछ ज्ञान की अंजली को जनमाध्यमोंको देने हेतू ज्ञानांजली - बीकेवार्ता आर्टिकल बँक को शुरु किया है,

 

लेख डिपॉझिट करने वाले लेखकों के लिए सूचना 

0 जो लेखक भाई - बहन लिखने की क्षमता रखतें है तथा अपना लेख, विचारों से आध्यात्मिक क्रांती लाना चाहतें है वह अपना लेख इस बँक में डिपॉझिट कर सकतें है . इस बँक में केवल आध्यात्मिक विचारों तथा वैचारिक क्षमताओं को उजागर करनेवालें ही लेख स्विकारें जायेगे. उचित लेखों को लेखक के नाम सहित इस आर्टिकल्स बँक की लिस्ट में शामील किया जायेगा. 

 

0 अपना लेख जीस भाषा में लिखा हो उसको टाईप फॉमेंट में ही स्विकारा जायेगा. आप इसके लिए जो फाँट का प्रयोग करेंगंे वह लेख के साथ अॅटेंच कर भेजें.

 लेख भेजने के लिए bkvarta@gmail.com

 अगर आपको इस संदर्भ में कोई तांत्रिक मदद चाहिए तो 9420664468 इस पर माँग सकतें है 

 

 विश्व पर्यावरण दिवस

संयुक्त राष्ट्र द्वारा सकारात्मक पर्यावरण कार्य हेतु दुनियाभर में मनाया जाने वाला 'विश्व पर्यावरण दिवस' सबसे बड़ा उत्सव है। पर्यावरण और जीवन का अन्योन्याश्रित संबंध है तथापि हमें अलग से यह दिवस मनाकर पर्यावरण के संरक्षण, संवर्धन और विकास का संकल्प लेने की आवश्यकता पड़ रही है। यह चिंताजनक ही नहीं, शर्मनाक भी है। पर्यावरण प्रदूषण की समस्या पर सन् 1972 में संयुक्त राष्ट्र संघ ने स्टाकहोम (स्वीडन) में विश्व भर के देशों का पहला पर्यावरण सम्मेलन आयोजित किया। इसमें 119 देशों ने भाग लिया और पहली बार एक ही पृथ्वी का सिद्धांत मान्य किया। इसी सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) का जन्म हुआ तथा प्रति वर्ष 5 जून को पर्यावरण दिवस आयोजित करके नागरिकों कोप्रदूषण की समस्या से अवगत कराने का निश्चय किया गया। तथा इसका मुख्य उद्देश्य पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाते हुए राजनीतिक चेतना जागृत करना और आम जनता को प्रेरित करना था। उक्त गोष्ठी में तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने 'पर्यावरण की बिगड़ती स्थिति एवं उसका विश्व के भविष्य पर प्रभाव' विषय पर व्याख्यान दिया था। पर्यावरण-सुरक्षा की दिशा में यह भारत का प्रारंभिक क़दम था। तभी से हम प्रति वर्ष 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस मनाते आ रहे हैं।

विचारपुष्प  -   जो संकल्प करो उसे बीच-बीच में दृढ़ता का ठप्पा लगाओ तो विजयी बन जायेंगे ! 

 [ विचारपुष्प का वीडिओ


ब्रह्माकुमारीज खबरे -अन्य वेबसाइट पर 


संस्कार धन - बोध कथा  : मन का राजा 

राजा भोज वन में शिकार करने गए लेकिन घूमते हुए अपने सैनिकों से बिछुड़ गए और अकेले पड़ गए। वह एक वृक्ष के नीचे बैठकर सुस्ताने लगे। तभी उनके सामने से एक लकड़हारा सिर पर बोझा उठाए गुजरा। वह अपनी धुन में मस्त था। उसने राजा भोज को देखा पर प्रणाम करना तो दूर, तुरंत मुंह फेरकर जाने लगा।
भोज को उसके व्यवहार पर आश्चर्य हुआ। उन्होंने लकड़हारे को रोककर पूछा, ‘तुम कौन हो?’ लकड़हारे ने कहा, ‘मैं अपने मन का राजा हूं।’ भोज ने पूछा, ‘अगर तुम राजा हो तो तुम्हारी आमदनी भी बहुत होगी। कितना कमाते हो?’ लकड़हारा बोला, ‘मैं छह स्वर्ण मुद्राएं रोज कमाता हूं और आनंद से रहता हूं।’ भोज ने पूछा, ‘तुम इन मुद्राओं को खर्च कैसे करते हो?’ लकड़हारे ने उत्तर दिया, ‘मैं प्रतिदिन एक मुद्रा अपने ऋणदाता को देता हूं। वह हैं मेरे माता पिता। उन्होंने मुझे पाल पोस कर बड़ा किया, मेरे लिए हर कष्ट सहा। दूसरी मुद्रा मैं अपने ग्राहक असामी को देता हूं ,वह हैं मेरे बालक। मैं उन्हें यह ऋण इसलिए देता हूं ताकि मेरे बूढ़े हो जाने पर वह मुझे इसे लौटाएं।

तीसरी मुद्रा मैं अपने मंत्री को देता हूं। भला पत्नी से अच्छा मंत्री कौन हो सकता है, जो राजा को उचित सलाह देता है ,सुख दुख का साथी होता है। चौथी मुद्रा मैं खजाने में देता हूं। पांचवीं मुद्रा का उपयोग स्वयं के खाने पीने पर खर्च करता हूं क्योंकि मैं अथक परिश्रम करता हूं। छठी मुद्रा मैं अतिथि सत्कार के लिए सुरक्षित रखता हूं क्योंकि अतिथि कभी भी किसी भी समय आ सकता है। उसका सत्कार करना हमारा परम धर्म है।’ राजा भोज सोचने लगे, ‘मेरे पास तो लाखों मुद्राएं है पर जीवन के आनंद से वंचित हूं।’ लकड़हारा जाने लगा तो बोला, ‘राजन् मैं पहचान गया था कि तुम राजा भोज हो पर मुझे तुमसे क्या सरोकार।’ भोज दंग रह गए।

 


ब्रह्माकुमारीज् की प्रमुख खबरें -

 

 

  चित्रों सहित विस्तार से समाचार के लिए क्लिक करें  


 

बोध कथा-

विचार की पवित्रता

एक राजा और नगर सेठ में गहरी मित्रता थी। वे रोज एक दूसरे से मिले बिना नहीं रह पाते थे। नगर सेठ चंदन की लकड़ी का व्यापार करता था। एक दिन उसके मुनीम ने बताया कि लकड़ी की बिक्री कम हो गई है। तत्काल सेठ के मन में यह विचार कौंधा कि अगर राजा की मृत्यु हो जाए, तो मंत्रिगण चंदन की लकडि़यां उसी से खरीदेंगे। उसे कुछ तो मुनाफा होगा। शाम को सेठ हमेशा की तरह राजा से मिलने गया। उसे देख राजा ने सोचा कि इस नगर सेठ ने उससे दोस्ती करके न जाने कितनी दौलत जमा कर ली है, ऐसा कोई नियम बनाना होगा जिससे इसका सारा धन राज खजाने में जमा हो जाए।
दोनों इसी तरह मिलते रहे, लेकिन पहले वाली गर्मजोशी नहीं रही। एक दिन नगर सेठ ने पूछ ही लिया, ‘पिछले कुछ दिनों से हमारे रिश्तों में एक ठंडापन आ गया है। ऐसा क्यों?’ राजा ने कहा, ‘मुझे भी ऐसा लग रहा है। चलो, नगर के बाहर जो महात्मा रहते हैं, उनसे इसका हल पूछा जाए।’ उन्होंने महात्मा को सब कुछ बताया। महात्मा ने कहा, ‘सीधी सी बात है। आप दोनों पहले शुद्ध भाव से मिलते रहे होंगे, पर अब संभवत: एक दूसरे के प्रति आप लोगों के मन में कुछ बुरे विचार आ गए हैं इसलिए मित्रता में पहले जैसा सुख नहीं रह गया।’ नगर सेठ और राजा ने अपने-अपने मन की बातें कह सुनाईं। महात्मा ने सेठ से कहा,’ तुमने ऐसा क्यों नहीं सोचा कि राजा के मन में चंदन की लकड़ी का आलीशान महल बनवाने की बात आ जाए? इससे तुम्हारा चंदन भी बिक जाता। विचार की पवित्रता से ही संबंधों में मिठास आती है। तुमने राजा के लिए गलत सोचा इसलिए राजा के मन में भी तुम्हारे लिए अनुचित विचार आया। गलत सोच ने दोनों के बीच दूरी बढ़ा दी। अब तुम दोनों प्रायश्चित करके अपना मन शुद्ध कर लो, तो पहले जैसा सुख फिर से मिलने लगेगा।’ 5

ब्रह्माकुमारीज् की प्रमुख खबरें

 श्रद्धा एवं भक्ति के साथ मना मां जगदंबे स्मृति दिवस

झुमरीतिलैया (कोडरमा): झुमरीतिलैया के रेलवे कॉलोनी स्थित ईश्वरीय ब्रह्माकुमारी संस्थान में रविवार को आदि देवी मातेश्वरी जगदंबे का 49वां स्मृति दिवस विश्व शांति दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर अधिवक्ता सत्यनारायण प्रसाद, केंद्र संचालिका लक्ष्मी बहन ने जगदंबे के चित्र पर पुष्प अर्पित किया। ब्रह्माकुमारी लक्ष्मी बहन ने कहा कि मातेश्वरी जगदंबे की विशेषता और शिक्षाओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 1937 में परमात्मा शिव ने सृष्टि पर अपना दिव्य कर्तव्य व मानवीय तन प्रजापिता ब्रह्माकुमारी का आधार लिया जो बाद में ज्ञान की देवी मातेश्वरी जगदंबे कहलायी जिनको ब्रह्मा वत्स प्यार से मम्मा भी कहा करते थे। उन्होंने कहा कि जगदंबे बेहद योगिनी एवं तपस्विनी थी और दिव्य गुणों की खान थी। वह विश्व के लिए प्यार, दुलार, ममता की छांव थी। मौके पर अधिवक्ता सत्यनारायण प्रसाद ने कहा कि मातेश्वरी जगदंबे, सरस्वती पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि मां जैसा दुनिया कोई शब्द नहीं हो सकता। अगर मां नहीं होती तो हम भी न होते। मां पूरे परिवार को अपने साथ चलाती है। इस अवसर पर बलदेव प्रसाद, अमरदीप, राम चौधरी, शंकर चौरसिया, शिव बजाज आदि उपस्थित थे।

राजयोग शिविर का आयोजन 25 से

झुमरीतिलैया: प्रजापति ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय रेलवे कॉलोनी में 25 से 30 जून तक निश्शुल्क तनावमुक्ति, राजयोग शिविर का आयोजन किया जाएगा। यह जानकारी केंद्र संचालिका ब्रह्माकुमारी लक्ष्मी बहन ने दी।


दोहरी जिंदगी से सुख-शांति नहीं- प्राची बहन

रायपुर । मनुष्य की दिनोदिन बढ़ रही इच्छाएं चिंता और तनाव पैदा कर रही हैं। यदि हम सफल जीवन जीना चाहते हैं तो जीवन के प्रति अपने दृष्टिकोण को बदलना होगा। ये विचार प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय चौबे कॉलोनी में रविवार से शुरू हुए 'स्वस्थ विचार-खुशनुमा परिवार' राजयोग शिविर में ब्रह्माकुमारी प्राची बहन ने व्यक्त किए।

जीवन का उद्देश्य विषय पर उन्होंने कहा कि हरेक मनुष्य दोहरी जिंदगी जी रहा है, जो वह है वह दिखना नहीं चाहता और जो वह नहीं है वह दिखना चाहता है। यदि हमारे मन में व्यर्थ विचार आते हैं तो जीवन में शांति नहीं आ सकती है। इन विचारों का हमारे शरीर पर सूक्ष्म व गहरा प्रभाव पड़ता है। हमारे विचार ही हमारा व्यक्तित्व बनाते हैं। आप कैसे दिखते हैं, यह महत्वपूर्ण नहीं है, लेकिन आप कैसा सोचते हैं, यह अधिक महत्वपूर्ण है।

धन से सुख नहीं खरीद सकते

प्राची बहन ने कहा कि वर्तमान समय में धन कमाना ही मनुष्य के जीवन का एकमात्र लक्ष्य रह गया है। वह धन को ही सब कुछ समझकर इसकी ही साधना, आराधना में अपना पूरा जीवन लगा देता है। हमें इस तथ्य को समझना होगा कि धन ही सब कुछ नहीं है। धन से हम भौतिक साधन तो खरीद सकते हैं, लेकिन भौतिक साधन स्थायी खुशी नहीं दे सकते।

एक उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि अमेरिका, स्वीडन व जापान ऐसे देश हैं, जहां प्रति व्यक्ति आय सबसे अधिक है, लेकिन सबसे ज्यादा आत्महत्या की घटनाएं इन्हीं देशों में होती हैं और सबसे ज्यादा मनोरोगी भी यहीं हैं। इससे सिद्ध होता है धन से सुख नहीं मिल सकता। सुखी जीवन के लिए शारीरिक, भौतिक, सामाजिक व आध्यात्मिक सभी क्षेत्रों में सामंजस्य बनाकर चलना होगा, तभी हमारा जीवन पूर्ण रूप से सुखमय होगा।

 


 

नशे से होने वाले दुष्प्रभाव बताए

बिलासपुर : राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बंदला में वीरवार को प्रजापति ईश्वरीय ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय के सौजन्य से मेरा व्यसन मुक्त हिमाचल अभियान के अंतर्गत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में संस्थान से जेबी शर्मा ने नशे से होने वाले दुष्प्रभाव बताए।

उन्होंने विद्यार्थियों को नशे से दूर रहने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि नशा न केवल शारीरिक, मानसिक बल्कि पारिवारिक व सामाजिक रूप से प्रभावित करता है। इस दौरान बच्चों ने भाषण के माध्यम से भी नशे के खिलाफ जागरूक किया। इस दौरान कार्यकारी प्रधानाचार्य राकेश शर्मा, विक्रम चंद, नारायण देव, बाबू राम, कासी राम, पूनम कुमारी, शशि शर्मा, बाबू राम, प्ररेणा ठाकुर, भूषण सहित स्टाफ सदस्य मौजूद थे।


ब्रह्माकुमारी का शांति महोत्सव

इंदौर। प्रजापति ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय द्वारा रविवार को अमितेश नगर में शांति महोत्सव का आयोजन किया गया इस अवसर पर टी. वी. धारावाहिक रामायण में मन्दोदरी की भूमिका अदा करने वाली प्रभा मिश्रा बहन भी मौजूद थी। इसमें उन्होंने उपस्थित लोगों को संबोधित किया है। गायक युगरतन भाई ने अपने सुन्दर गीतों की परस्तुति दी। -


 

नशा बीमारियां व मानसिक व्याधियों की जड़

एटा-कासगंज : तंबाकू के नशे की जड़ें आज सारे समाज पर विष बेल की भाति फैल चुकीं हैं। छोटे बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी इसे फैशन, गौरव का प्रतीक मानकर प्रयोग करते हैं। फिर बाद में पश्चाताप के सिवाय उनके हाथ कुछ भी नहीं लगता। यह विचार ब्रह्माकुमारी सरोज बहिन ने प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के सेवा केंद्र में तंबाकू मुक्ति दिवस के मौके पर आयोजित गोष्ठी में व्यक्त किए।

इस बुराई से समाज को मुक्त करने के लिए कई उपाय एक साथ में अपनाए जाएं तभी इसकी जड़ें समाप्त होंगी। एक तो सकारात्मक स्वास्थ्य शिक्षा द्वारा जागरुकता फैलानी चाहिए। राजयोग के अभ्यास से सुस्वास्थ्य, एकाग्रता एवं मानसिक शान्ति की प्राप्ति होती है। कार्यक्रम को प्रसिद्ध व्यवसाई संदीप माहेश्वरी, वीरेन्द्र किशोर भाई तथा रूबी बहन ने भी संबोधित किया।

तंबाकू मुक्ति दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों के अंतर्गत रेलवे स्टेशन पर जागरुकता प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया। जिसका शुभारंभ स्टेशन अधीक्षक देशराज तथा बहन रजनेश दीक्षित द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर किया गया। इस मौके पर डा. सतीश शर्मा, रामबाबू प्रतिहार, शरद भाटिया, सत्यनारायण, ओमप्रकाश, रामप्रकाश यादव, माधुरी बहन, प्रीती बहन, ओमप्रकाश, राजकमल माहेश्वरी, महेश एडवोकेट, मीना शर्मा, कृष्णा भाई, राममूल भाई, स्वराज भाई, रवींद्र सिंह पुंढीर, रीना बहन, नीरज बहन आदि लोग उपस्थित थे।


सहन शक्ति विघ्नों से बचने का कवच है : आत्मप्रकाश भाई

हिसार : प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के केंद्र द्वारा एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। ब्रह्माकुमारी मुख्यालय माउट आबू से आए वरिष्ठ राजयोग शिक्षक आत्म प्रकाश भाई ने विघ्नों में स्थिर रहने की युक्ति बताई।

उन्होंने कहा कि विघ्नों में घबराना नहीं चाहिए। घबराने से मनुष्य अपनी शक्तियों का प्रयोग नहीं कर पाता है। विघ्नों में धैर्य एवं सहन शक्ति बनाए रखें। सहन शक्ति विघ्नों से बचने का कवच है। विघ्नों में अक्सर नकारात्मक संकल्प आते है जो मन एवं शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव डालते है। इनसे बचने के लिए मन को शक्तिशाली एवं सकारात्मक संकल्पों की प्रोग्रामिंग दो। उन्होंने कुछ शक्तिशाली संकल्प/स्वमान बताए जिन्हे चिंतन करने से विघ्न दूर हो जाते है। आपसी संबंधों में टकराव से बचने के लिए हमें एक-दूसरे के गुण व विशेषताएं देखनी चाहिए। इससे आपसी स्नेह बढ़ेगा और संबंधों में प्रगाढ़ता आएगी। इस अवसर पर डॉ. आरपी गलहोत्रा, मुलकराज, एमएल बजाज, डा. राकेश मलिक, प्रो. वेद गुलयानी, प्रो. विरेद्र कौशिक, सोमप्रकाश, महेश, पवन, तनू, सुनीता आदि शामिल है।


 


 

शिव जयंती का शुभारंभ 

नसीराबाद - प्रजापिता ब्रह्माकुमारी सदस्यों ने रविवार को झूलेलाल मंदिर के पास शिव जयंती का शुभारंभ झंडारोहण कर किया। पार्षद चारू बाबानी ने बताया कि जिला रसद अधिकारी सुरेश सिंधी ने झंडारोहण कर शुभारंभ किया और ईश्वरीय ब्रह्माकुमारी संस्था के सेवा कार्यों की सराहना की। कार्यक्रम में ब्रह्माकुमारी आशा बहन, ब्रह्माकुमारी अंकिता बहन और ब्रह्माकुमारी नीलम बहन ने निराकार परमात्मा शिव और उनके द्वारा रचित तीन लोकों मनुष्य लोक, सूक्ष्म देव लोक और ब्रह्मलोक की जानकारी देकर मायावी संसार के बारे में समझाया। नीलम बहन ने प्रजापिता ब्रह्मा द्वारा नई सृष्टि की स्थापना विष्णु द्वारा नई सृष्टि की पालना और शंकर द्वारा पुरानी सृष्टि के विनाश पर प्रकाश डाला और शिव शंकर में अंतर के गूढ़ रहस्य की जानकारी दी। अंत में आशा बहन ने नगर में प्रवचन की धर्मसभाओं की जानकारी दी।


 

 

एक कल्प होता है. यह पांच हजार वर्ष का : ब्रह्माकुमारी प्रेमलता

DEHRADUN : प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के सुभाषनगर सेवाकेंद्र में संडे को प्रवचन का आयोजन किया गया. राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी प्रेमलता ने कहा कि सतयुग, त्रेतायुग, द्वापरयुग और कलयुग का एक कल्प होता है. यह पांच हजार वर्ष का एक स्वचालित कल्प है. सतयुग, त्रेतायुग को ब्रह्मा का दिन माना जाता है. द्वापरयुग व कलयुग को ब्रह्मा की रात्रि माना जाता है. ब्रह्मा के दिन के आरंभ में आत्माएं अपने मूल घर परमधाम से व्यक्त प्रकृति का आधार लेते हुए इस संसार में आती हैं. जब ब्रह्मा की रात्रि का अंत होता है तो सभी आत्माएं इस श्रृष्टि से परमधाम चली जाती हैं. यही दुनिया का चक्र है.


 

भाईचारे का संदेश दिया
 
 
 कासगंज: होली पर्व के उपलक्ष्य में ब्रह्माकुमारी संस्थान पर कार्यक्रम में एक दूसरे को रंग गुलाल लगाकर आपसी भाईचारे का संदेश दिया गया। वहीं विद्यालयों में भी विद्यार्थियों ने होली पर्व को धूमधाम से मनाया।

 

ब्रह्माकुमारी संस्थान पर आयोजित कार्यक्रम में सरोज बहन ने कहा कि सद विचारों के साथ ज्ञान योग को धारण कर इस होली पर्व को मनाने से आपसी द्वेष मिट जाते हैं। रूबी बहन, नीरज बहन व रूपा बहन ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम का संचालन रीना बहन ने किया। इस मौके पर भगवान शरण अग्रवाल, राजकमल माहेश्वरी, राजेन्द्र, रवीन्द्र पुण्ढीर, रामप्रकाश यादव, रामबाबू प्रतिहार, डा. सतीश शर्मा, अनिल तोशनीवाल, गौरीशकर शर्मा, शरद भाटिया, राममूल भाई, जयप्रकाश, विजय, श्याम, बीना गुप्ता, कान्ती देवी, प्रेमवती बहन, मंजू बहिन आदि उपस्थित रहे।

 

वहीं नगर के जेपी पब्लिक ऐकेडमी एवं लोटस एकेडमी में भी विद्यार्थियों ने एक दूसरे को रंग लगा आपसी भाईचारे का संदेश दिया।

 

 


 

आध्यात्मिक होली मिलन कार्यक्रम का आयोजन

पूर्वी दिल्ली : ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय पांडव नगर सेवा केंद्र द्वारा होली मंगल मिलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें एक बनो, नेक बनो का संदेश लोगों तक पहुंचाने की कोशिश की गई। राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष न्यायाधीश वी ईश्वरैया कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए।

 

इस अवसर पर बच्चों ने देवगीत, संगीत एवं नृत्य प्रस्तुति से जनसमूह को आत्मविभोर कर दिया। न्यायाधीश वी ईश्वरैया ने कहा कि होली का त्योहार केवल हिंदुओं तक ही सीमित नहीं है, बल्कि यह जाति, धर्म व भाषा सभी को राष्ट्रीय एकता एवं भाईचारा के सूत्र में बाधने का एक आध्यात्मिक उत्सव है। इस दौरान सहायक आयुक्त वीर सिंह त्यागी ने कहा कि समाज में बढ़ती हिंसा, अपराध, भ्रष्टाचार और व्यभिचार का मूल कारण लोगों की अत्यधिक भौतिक तथा भोगवादी मानसिकता है, जिसे केवल आध्यात्मिक एवं नैतिक शिक्षा, प्रशिक्षण एवं मेडिटेशन के माध्यम से दूर किया जा सकता है। कार्यक्रम की मुख्य आयोजिका राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी मंजुल ने उपस्थित लोगों को सामूहिक ध्यान करवाया। इस अवसर पर स्थानीय थाना प्रभारी ओमप्रकाश, मुकेश आहुजा, कवयित्री डॉ. ऋतु मंजरी सहित काफी संख्या में लोग मौजूद थे।

 


 

माता बच्चों की निर्माता भी होती है : चक्रधारी

माता बच्चों की निर्माता भी होती है : चक्रधारी

मुजफ्फरनगर। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के महिला प्रभाग ने अखिल भारतीय अभियान 'नारी सुरक्षा हमारी सुरक्षा' के तहत नगर में स्थानीय सेवा केंद्र दिव्य धाम केशवपुरी से पदयात्रा निकाली। राजयोगिनी चक्रधारी दीदी ने कहा माता बच्चों की माता ही नहीं, बल्कि निर्माता भी है।

शिव चौक के निकट तुलसी पार्क में मुख्य अतिथि सिटि मजिस्ट्रेट विंध्यावासिनी राय ने ईश्वरीय ध्वज दिखाकर पदयात्रा का शुभारंभ किया। तुलसी पार्क से प्रारम्भ होकर पद यात्रा झांसी रानी चौक, प्रकाश चौक व महावीर चौक से होते हुए अर्पण बैंक्वेट हाल पहुंची। यहां हुए कार्यक्रम में रूस से पधारी ब्रह्माकुमारी महिला प्रभाग की अध्यक्षा राजयोगिनी चक्रधारी दीदी ने कहा कि माता बच्चों की केवल माता ही नहीं बल्कि निर्माता भी होती है। उन्होंने कहा कि यदि नारी अपमानित होती है। हम सबमें से किसी की मां, बहन, पत्नी, बेटी, चाची, बुआ ही अपमानित होती है। हमारा उनसे कोई न कोई संबंध जरूर होता है। नगर पालिका चेयरमैन पंकज अग्रवाल ने नारी सुरक्षा को अति महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि जिन देशों में नारी का शोषण होता है, वह देश तरक्की नहीं कर पाते। उन्होंने नारी सुरक्षा के लिए नगर की 50 प्रतिशत युवतियों को अगले वर्ष तक मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण दिलाने की घोषणा की। महिला अस्पताल की सीएमएस डा. मृदुला अग्रवाल, बीके गणेश, बीके अंजली, बीके लवली ने अपने विचार रखे। बीके जयंती, बीके पूनम, सरला, केतन कर्णवाल का योगदान रहा।


पुण्यतिथि पर हुई सामूहिक प्रार्थना सभा

पुण्यतिथि पर हुई सामूहिक प्रार्थना सभा

मीरजापुर : शुक्लहां स्थित प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के नवीन सेवा केंद्र में शनिवार को संस्थापक प्रजापिता ब्रह्मा बाबा की 45वीं पुण्यतिथि विश्व शांति दिवस के रूप में श्रद्धापूर्वक मनाई गई।

सेवा केंद्र में इस अवसर पर सुबह सामूहिक प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। इसमें बाबा के महान त्याग और तपस्या को याद किया गया। सभी ने विश्वशांति, मानवीय एकता, देश की खुशहाली, सुख एवं समृद्धि के लिए सामूहिक रूप से राजयोग का अभ्यास किया गया। संस्थान की सेवा केंद्र प्रभारी बीके बिंदु बहन ने कहा कि आज मानवता पर बहुत बड़ा संकट आया है।

हमें दु:खी व अशांत आत्माओं को अपनी शुभभावना, शुभकामना के प्रकम्पनों से शांति, सुख और आनंद की अनुभूति करानी है। बीके प्रदीप भाई ने कविता के माध्यम से बाबा को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर सुदर्शन भाई, मालबर भाई, रामजी भाई, राधा बहन ने भी बाबा के जीवन दर्शन पर प्रकाश डाला। किरन, नीता व रूपाली बहनों ने सभी को सामूहिक योग अभ्यास कराया। विशेष भोग भी लगाया गया। बाबा का स्मृति दिवस विश्व के 140 देशों में ब्रह्माकुमारी के लगभग नौ हजार सेवा केंद्रों पर विश्व शांति दिवस के रूप में मनाया जाता है।


ईश्वरीय विश्वविद्यालय के तत्वाधान में निश्शुल्क राज योग शिविर

त्रिवेणीगंज(सुपौल), बड़ी दुर्गा मंदिर के प्रागंण में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के तत्वाधान में निश्शुल्क राज योग शिविर आयोजित की गई। जिसका उद्धाटन थानाध्यक्ष अमित कुमार ने किया। मौके पर ब्रह्माकुमारी सुपौल की संचालिका बीके शालिनी ने कहा कि कार्यक्रम 31 जनवरी तक आयोजित किए जाएंगे। जिसमें प्रथम दो दिनों तक राज योग शिविर के आध्यात्मिक प्रदर्शनी लगाये जाएंगे। शिविर को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राज योग आध्यात्मिक प्रदर्शनी लोगों के तनाव, व्यसन एवं अनेक प्रकार के मानसिक विकारों को दूर करने का काम करती है। और जीवन में सुख शांति लाने में सहायक है। कहा कि आज के भाग दौड़ भरी जिदंगी में मानव का मानसिक संतुलन बिगड़ता जा रहा है। पारिवारिक संबंध भी टूट रहा है। इस प्रकार अनेक प्रकार की विकृतियों को भगाने में यह राज योग हमें बहुत मदद करता है। बोले कि प्रजापति ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय संसार में अपने 140, देशों में 10 हजार सेवा केन्द्रों के माध्यम से मानव सेवा में सतत रूप से जुड़े हैं। उन्होंने शिविर में भाग लेकर राज योग से लाभान्वित होने का लोगों से आह्वान किया। मौके पर सुनीति बहन, विवेकानंद भाई, सत्य नारायण भाई, चुन्नी लाल भरतिया, श्याम अग्रवाल, जवाहर गुप्ता, मनीष सिंह, रामावतार अग्रवाल, नवीन कुमार अग्रवाल आदि उपस्थित थे।


'गुगल ब्वाय' का सांपला पहुंचने पर स्वागत

'गुगल ब्वाय' का सांपला पहुंचने पर स्वागत

सांपला. गुगल ब्वाय एवं जीनियस नाम से विख्यात छोटे कौटिल्य का सांपला पहुंचने पर शुक्रवार को स्वागत किया गया। ब्रह्माकुमारी आश्रम में स्वागत समारोह हुआ, जिसमें ब्रह्माकुमारी वंदना के नेतृत्व में क्षेत्र के प्रबुद्घ लोगो ने कौटिल्य शर्मा व उसके परिवार का अभिनंदन किया।

कौटिल्य ने उपस्थित विद्वानों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का तत्काल सही उत्तर देकर हर किसी को अपनी प्रतिभा का कायल बना दिया। आश्रम में ब्रह्माकुमारी ललित की देखरेख में हुए समारोह में लेखक एवं इतिहासकार मधुकांत, समाज सेवी सुरेंद्र गुप्ता, मूलचंद शर्मा, डा. सुरेश राठी, शैलजा शर्मा, किशन मलिक और रामकुमार गहलोत ने प्रश्न पूछे। कौटिल्य के पिता ने कहा कि प्रतिभावान बच्चों की प्रतिभा को उजागर करने की जरूरत है।


 दीपावली महोत्सव धूमधाम से मनाया 

रामपुर मनिहारन, सहारनपुर : प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय में दीपावली महोत्सव धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम में चेयरमैन पूनम चौधरी ने कहा कि एकता व आपसी प्यार ही त्योहार का आनन्द है।

खुराना काम्प्लेक्स में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय में आयोजित दीपावली महोत्सव कार्यक्रम में क्षेत्र से आए भाई बहनों ने सामूहिक रुप से दीप प्रज्ज्वलित कर दीपोत्सव कार्यक्रम में भाग लिया। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की सेवा केन्द्र इन्चार्ज बीके सन्तोष ने दीपावली पर्व के बारे में विस्तार से प्रकाश डाला और कहा कि मनुष्य हमेशा सच्चाई के रास्ते पर चले। मुख्य अतिथि नगर पंचायत चेयरमेन पूनम प्रदीप चौधरी ने कहा कि त्योहार व पर्व किसी भी जाति धर्म का हो उसे मिलजुल कर मनाने का आनन्द और ही है। मा. बाबूराम शर्मा, मा.सूरजमल, सेठपाल, बीके पूनम, जितेन्द्र, सुरेश, जनेश्वर, मोनू, सचिन, आदि काफी ब्रहम कुमार व ब्रह्माकुमारी रहे। 


 

विश्व शांति को युवा साइकल यात्रा निकाली

 

निज , जलेसर (एटा): नगर में बुधवार को ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय द्वारा युवा विश्व के आधार स्तंभ के दृष्टिगत शातिदूत साइकल यात्रा निकाली गई।

बुधवार को निकाली गई साइकल यात्रा नगर भर में घूमी। यात्रा ने लोगों को शांति का संदेश देते हुये युवाओं को जागरूक किया। इस अवसर पर ब्रह्माकुमारी सरोज बहन ने बताया कि युवाओं पर आज सभी की नजरें हैं, युवा विश्वका आधार स्तम्भ है। जैसे चार टागों के बगैर कुर्सी रुक नहीं सकती। वैसे ही युवा के बगैर समाज चारित्रिक, नैतिक सुदृढ़ नहीं बन सकता। इसका मुख्य उद्देश्य युवाओं को जागरूक करना है।

साइकल यात्रा को पूर्व पालिकाध्यक्ष के.जी.वाष्र्णेय ने ध्वज दिखाकर फीरोजाबाद के लिए रवाना किया। देश में ऐसी 94 साइकल यात्रा के जत्थे युवाओं में विश्व शाति और व्यसन मुक्ति का अलख जगा रहे हैं। सुभाष भाई ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर ओमप्रकाश, बबलेश, सुदेश, हरी सिंह, रामवीर सिंह, रामरक्षपाल सिंह, श्रीपाल सिंह, पुरूषोत्तम, रामपाल शर्मा, गौरव वर्मा सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल थे।


नैतिक मूल्यों को भूलने से हुआ समाज का पतन- भगवान भाई, केआईटी में छात्रों को दिए मानव मूल्यों पर टिप्स

रायगढ़  । बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए भौतिक शिक्षा के साथ-साथ नैतिक शिक्षा की भी आवश्यकता है। नैतिक शिक्षा से ही सर्वांगीण विकास संभव है। उक्त उद्गार प्रजापिता ब्रह्माकमारी ईश्वरीय विश्य विद्यालय माउंट आबू राजस्थान से पधारे राजयोगी ब्रह्माकुमार भगवान भाई ने कहे। वे आज शनिवार को किरोड़ीमल इंजीनियरिंग कॉलेज ऑफ टेक्नालॉजी में नैतिक शिक्षा का महत्व विषय पर छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए बोल रहे थे। भगवान भाई ने कहा कि शैक्षणिक जगत में विद्यार्थियों के लिए नैतिक मूल्यों को जीवन में धारण करने की प्रेरणा देना आज की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि नैतिक मूल्यों की कमी यही व्यक्तिगत, सामाजिक, पारिवारिक, राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय सर्व समस्याओं का मूल कारण है। विद्यार्थियों का मूल्यांकन आचरण, अनुसरण, लेखन, व्यवहारिक ज्ञान एवं अन्य बातों के लिए प्रेरणा देने की आवश्यकता है। ज्ञान की व्याख्या करते हुए उन्होंने बताया कि जो शिक्षा विद्यार्थियों को अंधकार से प्रकाश की ओर, असत्य से सत्य की ओर, बन्धनों से मुक्ति की ओर ले जाए वही शिक्षा है। उन्होंने कहा कि अपराध मुक्त समाज के लिए संस्कारित शिक्षा जरुरी है। गुणगान बच्चे देश की संपत्ति भगवान भाई ने कहा कि आज के बच्चे कल का भावी समाज हैं। अगर कल के भावी समाज को इन्हीं बच्चों को नैतिक सद्गुणों की शिक्षा की आधार से चरित्रवान बनाए। तब समाज बेहतर बन सकता है। गुणवान व चरित्रवान बच्चे देश की सच्ची सम्पत्ति हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे गुणवान और चरित्रवान बच्चे देश और समाज के लिए कुछ रचनात्मक कार्य कर सकते हैं। उन्होंने भारतीय संस्कृति को याद दिलाते हुए कहा कि प्राचीन संस्कृति आध्यात्मिकता की रही जिस कारण प्राचीन मानव भी वंदनीय और पूजनीय रहा। उन्होंने बताया कि नैतिक शिक्षा से ही मानव के व्यवहार में निखार लाता है। कुसंग, सिनेमा, व्यसन, फैशन से युवा भटके ब्रह्माकुमार भगवान भाई ने कहा कि वर्तमान समय कुसंग, सिनेमा, व्यसन और फैशन से युवा पीढ़ी भटक रही है। आध्यात्मिक ज्ञान और नैतिक शिक्षा के द्वारा युवा पीढ़ी को नई दिशा मिल सकती है। उन्होंने बताया कि सिनेमा इन्टरनेट व टीवी. के माध्यम से युवा पीढ़ी पर पाश्चात्य संस्कृति का आघात हो रहा है। इस आघात से युवा पीढ़ी को बचाने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि युवा पीढ़ी को कुछ रचनात्मक कार्य सिखायें तब उनकी शक्ति सही उपयोग में ला सकेंगे। वरिष्ठ राजयोगी ब्रह्माकुमार भगवान भाई ने कहा कि हमारे मूल्य हमारी विरासत है। मूल्य की संस्कृति के कारण आज भारत की पूरे विश्व में पहचान है। इसलिए नैतिक मूल्य, मानवीय मूल्यों की पुर्नस्थापना के लिए सभी को सामूहिक रूप में प्रयास करने चाहिए। उन्होंने कहा कि मनुष्य की सोच ही उसके कर्मों का आधार बनता है। इसलिए कर्म विश्व के लिए हितकारी हो। सकारात्मक चिन्तन का महत्व बताते हुए उन्होंने कहा कि सकारात्मक चिन्तन से समाज में मूल्यों की खुशबू फैलती है। सकारात्मक चिन्तन से जीवन की हर समस्याओं का समाधान होता है। उन्होंने शिक्षा का मूल उद्देश्य बताते हुए कहा कि चरित्रवान, गुणवान बनना ही शिक्षा का उद्देश्य है। उन्होंने आध्यात्मिकता को मूल्यों का स्रोत बताते हुए कहा कि शांति, एकाग्रता, ईमानदारी, धैर्यता, सहनशीलता आदि सद्गुण मानव जाती का श्रृंगार है। स्थानीय ब्रह्माकुमारी राजयोग सेवाकेन्द्र की बी.के. ममता बहन ने अपना उद्बोधन देते हुए कहा कि कुसंग, सिनेमा, व्यसन और फैशन से वर्तमान युवा पीढ़ी भटक रही है। चरित्रवान बनने के लिए युवा को इससे दूर रहना है। अपराध राजयोग का महत्व बताते हुए कहा कि राजयोग से एकाग्रता आयेगी। इस अवसर पर नमिता वर्मा व्याख्याता उक्षमा सूर्यवंशी व्याख्याता केआईटी के.के. गुप्ता रजिस्टार कु. ममता बहन, कु. मधु भाई, कु. भगत भाई, मनोज भाई सहित बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।


With coperation by Jagran, Daily Bhaskar and other news papers

लेटेस्ट वीडिओ, म्युझिक,वालपेपर

देहिअभिमानी से सेफटी - शिलू बहन - हिंदी भाषा - Date: 14-11-2013 | Size: 205.34 MB | वीडिओ

देहिअभिमानी से सेफटी - शिलू बहन - हिंदी भाषा - Date: 14-11-2013 | Size: 8.52 MB | ऑडिओ

 


वत्तीसे सेवा  ब्रजमोहन भाई - हिंदी भाषा Date: 14-11-2013 | Size: 6.44 MB वीडिओ

वत्तीसे सेवा  ब्रजमोहन भाई - हिंदी भाषा Date: 14-11-2013 | Size: 6.44 MB ऑडिओ

 


 

वत्तीसे वायुमंडल ब्रजमोहन भाई - हिंदी भाषा -Date: 13-11-2013 | Size: 9.27 MB |

 


सांयकालिन क्लास  | दादी जानकीजी |हिंदीभाषा Date: 14-11-2013 | Size: 3.4 MB  

 


भोग संदेश - रुकमीणी बहन - हिंदी Date: 14-11-2013 | Size: 21.45 MB

 


भोग संदेश - रुकमीणी बहन - अंग्रेजी - Date: 14-11-2013 | Size: 971.61 MB


 

भोग संदेश - रुकमीणी बहन - हिंदी Date: 14-11-2013 | Size: 969.89 MB

 

गहन योगानुभूती - आत्मप्रकाशभाई - हिंदीभाषा - Date: 13-11-2013 | Size: 9.27 MB  


 सांयकालिन क्लास  | दादी जानकीजी |हिंदीभाषा Date: 13-11-2013 | Size: 83.01 MB  


 सांयकालिन क्लास  | दादी जानकीजी | अंग्रेजी Date: 13-11-2013 | Size: 83.02 MB |


 विकर्मजित कर्मजित | गीता बहन | हिंदी Date: 13-11-2013 | Size: 272.18 MB |


 विकर्मजित कर्मजित | गीता बहन  | हिंदी Date: 13-11-2013 | Size: 11.64 MB |  


 द वर्ड टू युज इज नाऊ | दादी जानकीजी | अंग्रेजी-Date: 12-11-2013 | Size: 50.31 KB |

 


सांयलिन क्लास - दादी जानकीजी - 11-11-2013 | Size: 79.79 MB | अंग्रेजी भाषा 

 

 


सांयलिन क्लास - दादी जानकीजी - 11-11-2013 | Size:  3.28 MB | अंग्रेजी भाषा 

 

 


सांयलिन क्लास - दादी जानकीजी - 11-11-2013 | Size: 83.17 MB | हिंदी भाषा 

 

 


सांयलिन क्लास - दादी जानकीजी - 11-11-2013 | Size: 3.41 MB | हिंदी भाषा 

 


हंस आसानधारी - सुदेश बहनजी  - 11-11-2013 | Size: 180.95 MB हिंदी भाषा 

 


हंस आसानधारी - सुदेश बहनजी  - 11-11-2013 | Size: 7.39 MB हिंदी भाषा 

 


बींग वर्ल्ड सर्वर - शिलू बहनजी - 10-11-2013 | Size: 8.23 MB अंग्रेजी भाषा 


अपने मन को पावरफुल करें - [ब्लीदा बहन]  (अंग्रेजी)         डाऊनलोड क्लिक

Date: 09-11-2013 | Size: 6.85 MB |

अमतवेला शुभकामनायें [दादी जानकीजी]  (हिंदी)             डाऊनलोड क्लिक 

Date: 07-11-2013 | Size: 20.58 KB 

भोग संदेश [रुकमणी बहनद्वारा]  (हिंदी)                        डाऊनलोड क्लिक 

Date: 07-11-2013 | Size: 20.58 KB  

 


 

 

मेडिटेशन म्युझिक ऑनलाईन सुनिए'   वालपेपर     प्रेरक प्रसंग : फोटो वार्ता 


लेटेस्ट वीडिओ देखीए

पाण्डवों का आध्यात्मिक नाममहात्म [ ब्रहमाकुमारी उषा बहनजी ]
मोह की रगे अति गहरी होती [ ब्रहमाकुमारी उषा बहनजी ]
मुरली का महत्व  [ ब्रहमाकुमारी शिवानी बहनजी ]
आत्मिकस्वरुप में कैसे रहे? [ ब्रहमाकुमारी शिवानी बहनजी ]
सभी समस्याओं का समाधान [ ब्रहमाकुमारी उषा बहनजी ]
क्षमाशिल कैसे बने [ ब्रहमाकुमारी शिवानी बहनजी ]

 


Gallery

ShantiSarovar-Raipur_6
Shanti Sarovar_2
Supreme Soul_9
Shantivan
  • Shantivan
  • (7 pictures)
  • Hits: 63009
  • Shantivan- Talheti, Abu Road

 

Madhuban
  • Madhuban
  • (7 pictures)
  • Hits: 91208
  • Pandav Bhavan
Gyan Sarovar_1
Om Shanti Retreat Centre
  • ORC
  • (4 pictures)
  • Hits: 36813
  • Om Shanti Retreat Centre

 

 

 
Pamphlet Matter

Shivratri Pamphlet FrontBack

 

 

महाशिवरात्री संदेश दि. 22 से 28 फरवरी, 2017 रात 12 बजे तक 7 दिनमें 

7 करोंड व्हाटसएप युजर्स को दिया जायेगा महाशिवरात्री का आध्यात्मिक रहस्य

ओमशान्ति मीडिया पत्रिका, बीकवार्ता वेबपोर्टल तथा डॉ. दिपक हरके का संयुक्त उपक्रम

वंडर बुक ऑफ रिकार्ड इंटरनॅशनल, लंदन में दर्ज होगा विश्व किर्तीमान

 

अहमदनगर (प्रतिनिधी) हम प्रतिवर्ष भक्तिभाव से महाशिवरात्री महोत्सव मनाते है, किन्तू यह उत्सव क्या मनाते ? इसके पिछे छिपा आध्यात्मिक क्या है ? इसकी जानकारी कुछ ही लोगो के पास है ? महाशिवरात्री के आध्यात्मिक रहस्य को हम अपने जीवन में समझकर अपने जीवनमें प्रतिपल खुश रहने हेतू महाशिवरात्री संदेश देना आवश्यक है  दि. 22 से 28 फरवरी, 2017 की रात 12 से 7 करोड व्हॉटसअॅप युजर्सको महाशिवरात्रीका आध्यात्मिक संदेश प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की ओरसे पहूंचाया जायेगा. ओमशान्ति मीडिया पत्रिका, www.bkvarta.com बीकवार्ता वेबपोर्टल तथा डॉ. दिपक हरके का यह संयुक्त उपक्रम है.

 

इसके पूर्व का विश्व विक्रम डॉ. दिपक हरके इनके नाम पर है, दिपावली का आध्यात्मिक रहस्य का ऑडिओ मॅसेज 1 करोड 352 व्हॉटस्अॅप युजर्स को 29 अक्तुबर 2016 को रात 12 बजे से 20 अक्तुबर, 2016 के रात बजे बजे तक भेजकर उन्होने यह उपलब्ध हासिल की थी. महाशिवरात्री का विश्वविक्रमी संदेश प्राप्त करने के लिए 9422288888 इस व्हॉटसअॅप मैसेज पर WR एैसा मॅसेज भेजकर आप यह संदेश प्राप्त कर सकतें है. विश्वविक्रम में सहभागीता पत्र प्राप्त करने के लिए हरएक सहभागी व्यक्ति निर्धारीत राशी जमा कर वंडर बुक ऑफ रिकार्डमें सहभाग प्रमाणपत्र प्राप्त कर सकतें है . इस विश्वविक्रम का उदघाटन भारतीय क्रीकेट टिम के उपकप्तान अजिंक्य रहणे इनके शुभहस्तोंसे मुंबई के बीकेसीस्थित एमसीए क्लब में सपन्न हूआ. इस उपक्रम के बारें में रहाने ने डॉ. दिपक हरके को बधाई दी तथा ब्रह्माकुमारीज् के मानवसेवा के कार्य की सराहना की. 

 

 

 

31 जनवरी (भूवनेश्वर) वार्षिकोत्सव मनाया गया. सेवाकेंद्र के एक वर्ष पूर्ती पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

 


 

30 जनवरी (विलेपार्ले:मुंबई) सफल सारथी अवार्ड. ट्रान्सपोर्ट एण्ड ट्रॅव्हल्स प्रभागद्वारा यह अवार्ड प्राप्त ड्रायव्हर भाईयों को सम्मानित किया गया.

 


 

29 जनवरी (हैद्राबाद) मुख्यमंत्री महोदय शान्तिसरोवर में. भ्राता एम. चंद्राबाबू नायडूजीने शांती सरोवर भेट की. शांतीसरांेवर के दसवें वर्धापन दिन कार्यक्रम का उदघाटन उन्होंने किया.


 

28 जनवरी (जयपूर:राज.) अंतरराष्ट्रीय खेल सम्मेलन मंें ईश्वरीय संदेश. स्पोटर्स एण्ड फिजिकल एज्युकेशन विषयपर आयोजित इस मम्मेलन में बीके जगबीरभाईने दिया संदेश.


 

27 जनवरी (मडिकेरी:कर्ना.) कर्म की गती गुह्य है. - भगवानभाई सेंट्रल जेल में ब्र.कु भगवानभाई, माऊंट आबू ने दिया ईश्वरीय संदेश


 

26 जनवरी (मंगलौर:कर्ना.) सेंट्रल जेल में दिया ईश्वरीय संदेश. ब्र.कु भगवानभाई, माऊंट आबू ने दिया ईश्वरीय संदेश.


 

25 जनवरी (मालाड:मुंबई)फिल्म इन्स्टि. में मेडिटेशन रुम का उदघाटन. प्रसिध्द फिल्म निर्देशक तथा निर्माता भ्राता सुभाष घई ने विशअलींग फिल्म इन्स्टि. में मेडिटेशन रुम का उघाटन किया

 


 

24 जनवरी (कटघोरा) आध्यात्मिक समागम एवं सम्मान समारोह संपन्न. नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधीयों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया.


 

23 जनवरी (लातूर:महा.) उर्जा छात्र-क्लब स्थापित. गणतंत्र दिवस के अवसरपर विवेकानंद विद्यालय, सीबीएससी लातूर में महाराष्ट्र उर्जा छात्र क्लब की स्थापना की गई


 

22 जनवरी (बिलासपूर:छ.ग.) आरके नगर में सरस्वती झाँकी. राजकिशोर नगर, बीके रुपा बहनने माँ सरस्वती की महिमा का प्रवचन किया.


21 जनवरी (शान्तिवन) रेडिओ मधुबन वर्धापन दिन. ब्रहमाकुमारीज कम्युनिटी रेडिओ मधुबन का 4 था वर्धापन दिवस मनाया गया.

 


 

20 जनवरी (मालाड:मुंबई) सुरक्षीत रास्ता सप्ताह. एसटी डिपो में हुआ कार्यक्रम.


 

19 जनवारी (केशोद:गुज) यात्रा खुशनुमा जीवन की और कार्यक्रम संपन्न. ब्र.कु.डा. सविता, माऊंट आबूने किया मार्गदर्शन.


 

18 जनवरी (आबूपर्वत:पाण्डवभवन) पिताश्रीजी का स्मृतिदिवस. विश्वशांती दिवस के रुप में समूचे विश्व में मनाया गया.


 

17 जनवरी (विशाखापट्टणम) विधायक महोदय को दिया संदेश. नये वर्ष का संदेश भ्राता विष्णु कुमार राजू जी को बीके शशीकला बहनने दिया 


 

16 जनवरी (मुंबई) 102वीं विज्ञान परिषद में स्पार्क सेवा. मुंबई विश्व विद्यालय में आयोजित इस परिषदमें स्प्रिच्ुअल एप्लीकेशन एण्ड रिसर्च की सुंदर सेवा हुई


 

15 जनवरी (जयपूर) नारित्वदर्शन की सहभागीता. जयपूर अन्तरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टीवल में नारित्व दर्शन को नॉमिनेट किया गया.


 

14 जनवरी (शान्तिवन) रिडिकव्हरींग ऑफ लाईफ. वैज्ञानिक तथा अभियंता प्रभागद्वारा राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया


 

13 जनवरी (शान्तिवन) ब्र.कु. करुणाभाईजी का 75 वाँ जनमदिन. ब्रहमाकुमारीज संस्था के मीडिया उपाध्यक्ष तथा मल्टीमीडिया प्रभारी ब्र.कु. करुणाभाईजी के जनमदिन की प्लेटिनम ज्युबिली हर्षोल्हाससे मनाई गई.


 

12 जनवरी (शांतीवन)दादीजी का 99 वाँ जनमदिन मनाया. ब्रहमाकुमारीज संस्था की मुख्य प्रशासिका ददी जानकीजी का जन्मदिन बहुत ही उमंग उत्साहसे मनाया गया


 

11 जनवरी (मा.आबू) बीके केदारभाई का अभिनंदन किया दादीजीने. राजस्थान सरकारद्वारा उर्जा संरक्षण पुरस्कार प्राप्त करनेवाले बीके केदारभाई (उर्जा ऑडिटर) का अभिनंदन दादी रतनमोहिनीजी, बीके रमेशभाईजीने किया.


 

10 जनवरी (टिकरापारा:बीलासपूर) बालिका शिक्षा शिविर में सदेश. सरस्वती शिशु मंदिर उच्चस्तर मा. विद्यालय में बीके मंजू बहनने दिया ईश्वरीय संदेश.


 

09 जनवरी (राहूरी:महा.) आज की शाम भगवान के नाम. ब्र.कु. सुरजभाई, मा. आबू, ब्र.कु. गीताबहन पुना तथा उषा बहन राहूरी ने दिया ईश्वरीय संदेश. ब्र.कु. बद्रिश हेहाडरायने मीडियाद्वारा पहूंचाया संदेश


 

08 जनवरी (कलपेट्टा:केरला) केंद्रीय विद्यालय में दिया ईश्वरीय संदेश. ब्र.कु. भगवानभाई, आबू पर्वत ने  कही नैतिक मूल्यों की बा


 

07 जनवरी (बार्शि:महा.) कुंकूलोक हायस्कूल में ईश्वरीय संदेश. बीके संगीताबहनने दिया संदेश


 

06 जनवरी (केशोद) महान जादुगर विरागभाई हकुभा को दिया संदेश. बी.के. सत्याबहन, तथा बीके शिल्पा बहनने दिया परिचय.


 

05 जनवरी (हरिद्वार) ऋषीकुल में संत स्नेहमीलन, ब्र.कु.मिनाबहनने परमपिता परमात्मा का दिया सत्य परिच


 

04 जनवारी (बंेगलौर) फ्रि आय चेकींग कॅम्प. सेवाकेंद्र की ओरसे आयोजित कॅम्प में सहभागीयों दिया गया संदे


 

03 जनवरी (लिमा,पेरु:फ्रान्स)कोप-20 में ब्रहमाकुमारीज् की सहभागीता. क्लायमेंट चेंज कॉन्फरन्स में ब्रहमाकुमारीजने किया सहभाग


 

02 जनवरी (वाशी:मुंबई) सदभावना सभा में ब्रहमाकुमारीज् सहभाग. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की औरसे आयोजित इस मीटिंग में बहनोंने दिया संदेश


 

01 जनवरी (तिनसुखीया:आसाम) स्वर्णीम युग की पुन:स्थापना. गीता के भगवान को प्रत्यक्ष करने के सम्मेलनको, बी के ब्रजमोहनभाईजी, देहली, ब्र.कु. उषाबहनजी मा. आबू, बीके आशा बहनजी ने किया सम्बोधित

 

31 मार्च (कोरबा) नारी सुरक्षा अभियान. मानिकपुर में नारी सुरक्षा अभियान अंतर्गत व्याख्यान संपन्न हुआ


 

 

30 मार्च (राजिम) राज्यपाल महोदय को ई·ारीय संदेश. छत्तीसगढ़ के मान. राज्यपाल महामहिम शेखरदत्त जी को ई·ारीय संदेश दिया बहन पुष्पाने. इनके साथ ब्रा.कु. नारायणभाई और सांसद चन्दूलालजी उपस्थित थे.


 

29 मार्च (पिंपरी:पुना) शिवज्ञान दर्शन मेला. ब्र.कु पारुदीदी, ब्र.कु. सुरेखा बहन, उद्योजक संदिप वाघेरे इनके करकमलोंद्वारा इसका उदघाटन किया गया.


 

28 मार्च (बोरवली:मुंबई) दिव्या बहन को वूमन ऑफ एक्सलन्स अवार्ड. आंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में लाला लजपतराय इन्सिस्ट¬ूट आफ मॅनेजमेंट की औरसे ब्राहृाकुमारी दिव्या बहन को आध्यत्मिक क्षेत्र में अद्वितीय कार्य करने पर वूमन ऑफ एक्सलन्स अवार्ड से सम्मानित किया गया. डा. कमल गुप्ताजी, चेअरमन एलएलआय ने सम्मानित किया.


 

27 मार्च (अंजार-कच्छ:गुज.) रतनमणी मेटल एण्ड ट¬ूब लि. में कार्यक्रम. मुंदरा सेवाकेंद्र से ब्रा.कु. सुशला बहन ने मोटीवेशनल ट्रेनिंग शिविर करवाया.


 

26 मार्च (सायन:मुंबई) शांती उद्यान में महिला दिवस. आंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष मंे ब्राहृाकुमारी संतोषदिदीजी के प्रमुख उपस्थित में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. वरीष्ठ इन्स्पेक्टर बहन सुजाथा को इस समय ई·ारीय संदेश दिया गया.


 

25 मार्च (गुलबर्गा) 47 फिट शिवलिंग का भव्य आयोजन. विशाल द्वादर्श ज्योतिलिंग अमृतसरोवर में 5000 स्केअर फिट जगह पर किया गया. हर रोज दो हजार के करीब श्रद्धालु दर्शन करने आते थे.


 

24 मार्च (नेपाल) फ्यूचर ऑफ पावर. समाज के गणमान्य व्यक्तियों के लिए विशेष कार्यक्रम का आयोजन पोखरा में किया गया.


 

23 मार्च (शांतीवन) रेडिओ मधुबन ने मनाया महिला दिवस. आंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में, नारित्व दर्शन कार्यक्रम का आयाजन ब्राहृाकुमारीज् सामुदायीक रेडिओ स्टेशन , रेडिओ मधुबन ने आयोजित किया.


 

22 मार्च (बार्शी) महिला दिवस मनाया गया. सेवाकेंद्र की औरसे आंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया

 


 

21 मार्च (मनीपाल:कर्ना.) 35 फिट महाशिवलिंग. शहर के मुख्य स्थान के सर्कल में भगवान शिव की 35 फिट शिवलिंग की भव्य प्रतिमा लगाई गई.


 

20 मार्च (विलेपार्ले:मुंबई) टीवी तथा फिल्म कलाकरोंने मनाई शिवरात्री. लाखंण्डवाला क्षेत्र में टीवी तथा फिल्म कलाकर डाली बींद्रा, श्रीमती ज्योत्सना डिगे आदियांेने शिवजयंती मनाई.


 

19 मार्च (चेंबुर:मुंबई) 40 फिट शिवलिंग दर्शन. पहली बार भगवान शिव के 40 फिट ऊँचाईवाले शिवलिंगका दर्शन लिया श्रद्धालुओंने.


 

18 मार्च (मुंबई) नारी सुरक्षा, हमारी सुरक्षा. महिला सशक्तिकरण हेतु निकाली गई रॅली. समाज की सभी वर्गो की महिलाओं लिया हिस्सा.


 

17 मार्च (बैंगलौर) शिवजयंती महोत्सव. भगवान शिव का भव्य ज्योतिलिंग स्थापन किया गया.शिवलिंगका दर्शन लिया श्रद्धालुओंने.


 

16 मार्च (बार्शी) शिवजयंती महोत्सव. भ.के. गव्हाने, पत्रकार, विनोद बुडूख, अध्यक्ष लायन्स कल्ब, प्रकाश महामुनी, अध्यक्ष, लायन्स क्लब, तेजस बखारीया, अध्यक्ष, रोटरी क्लब, मोहनभाई, संगीत बहन, वर्षा बहन, राणी बहन महादेवी बहन वैजिनाथभाई आदियोंने किया शिवध्वजारोहण.


 

15 मार्च (चेन्नई) बारा ज्योतिलिंगम् दर्शन. शहर मंे भगवान शिव के बारा ज्योतिलिंगर्म दर्शन करने हेतु भव्य चैतन्य आयोजन किया गया.


14 मार्च (बेलापूर:मुंबई) शिवजयंती महोत्सव. भ्राता मंदा म्हात्रे,पूर्व विधायक, बहन स्नेहल पाठक, टीवी कलाकार, भ्राता आर सी सिंग, बीके शिला, बीके शुभांगी , बीके मिना ने किया उदघाटन


 

13 मार्च (अजमेर) भव्य शिवलिंग का निर्माण. शिवजयंती महोत्सवपर 15फिट का भव्य शिवलिंग का निर्माण किया गया जिसका दर्शन शहर के हजारों श्रद्धालुओंने लिया.


 

12 मार्च (केशोद) शिवजयंती महोत्सव. विधायक भ्राता अरविंदभाई लाडाणी, रोटरी क्लब के प्रमुख भ्राता कांतीभाई चुडासमा, जेसीस के प्रमुख भ्राता रजनीभाई फडदु, प्रो. डो. भुपेन्द्रभाई जेपी तथा बीके रुपा बहन उपस्थित थे


 

11 मार्च (मालाड:लिबर्टी गार्डन) गीतकार श्रवणकुमार पहुंचे शिवरात्रीपर . परमात्मा शिव की मनोरम्य झाँकी.  शिवजयंती महोत्सव पर शिवजयंती की झाँकि निकाली गई. जिसका उदघाटन शोभा बहन, कॅप्टर जीहेना, कॅ. पूनम, बीके राजबेन, बीके कुंती बहन, म्युझीक डायरेक्टर श्रवणकुमार, गीतकार डेबूजीत, चांदमिश्रा, निरजाबहन आदियों के करकमलोंद्वारा किया उदघाटन


 

10 मार्च (कोरबा) शिव शंकर झाँकि. शिवजयंती महोत्सव पर शिवजयंती की झाँकि निकाली गई.


 

09 मार्च (ग्वालियर) शिवजयंती महोत्सव. सेवाकेंद्रकी औरसे शिवजयंती महोत्सव का भव्य आयोजन किया गया.


 

08 मार्च (नासिक) डो. भटकर सेवाकेंद्रपर. सीडॅक के प्रणेता तथा सुपर कम्प्युटर के जनक डो. विजय भटकर सेवाकेंद्र पर पहुंचे तथा राजयोग अनुभूती की.


 

 

07 मार्च (मालाड:दिडोंशी) सड़क निर्माण में ब्र.कु. योगदान. शहर विकास के अंतर्गत सड़क निर्माण योजना में ब्रह्माकुमारी बहनों ने प्रवचन दिया.


 

06 मार्च (ग्वालीयर:दिनलयाल नगर) शिवपार्वती झाँकि. शिवजयंती महोत्सव पर शिवजयंती की झाँकि निकाली गई.


 


05 मार्च (बाणेर) अमरनाथ की भव्य गुफाये. शिवजयंती महोत्सव पर भव्य अमरनाथ गुफाओं का निर्माण किया गया. जिससे बहोतही सुंदर सेवायें हुई.


04 मार्च (बेलगाम) विश्व की सबसे बडी पतंग. ब्रह्माकुमारीज् की औरसे विश्व की सबसे बडी पतंग का निर्माण किया गया इसमें शिवसंदेश दिया गया. 203 फिट पतंग का निर्माण किया गया.

 


 

03 मार्च (शांतीवन) शिवध्वजारोहण. शिवरात्री महोत्सव पर परमात्मा शिव का ध्वज लहराया बापदादा, दादी जानकीजी तथा वरीष्ठ दादी, भाईयोंने


02 मार्च (हातीना:गुज) महिला सम्मेलनसंपन्न. वडोदरा से पोरबंदर नारी सशक्तिकरण अभियान अंतर्गत कार्यक्रम संपन्न हुआ


 

01 मार्च (गुडगांव) ओआरसी में प्रशासक डायलाग. प्रशासक प्रभाग आयोजित इस सेमिनार में गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे.


 

04 दिसम्बर (अकोला) तनाव मुक्त शिविर. राजयोगीनी ब्रहमाकुमारी गीता बहन, मा. आबू इनके तीन दिवसीय तनावमुक्त शिविर संपन्न हुआ.

बीकेवार्ता सम्माननिय पाठक संख्या

10099872
आज पढनेवाले पाठक
कल पढनेवाले पाठक
पिछले सप्ताह पढनेवाले पाठक
पिछले वर्ष पढनेवाले पाठक
एक तारीखसे अब तक पढनेवाले पाठक
पिछले मास पढनेवाले पाठक
अब तक की पाठक संख्या
1304
4159
5463
7785015
65636
65466
10099872

Your IP: 134.35.169.104
Server Time: 2017-02-27 17:53:35

 

 ‘जीवन का आधार, गीता का सार’


 

आगामी  कार्यक्रम के लिए क्लिक करें   

18 जनवरी - पिताश्री प्रजापिता ब्रहमा स्मती दिवस
24 जून - मातेश्वरी जगदंबा सरस्वती स्मती दिवस
25 अगस्त - दादी प्रकाशमणीजी का स्मती दिवस


    

    


 


बीकेवार्ता 360 ड्रिगी वार्ता सेवा [न्यूज सर्विस]


 

ब्रहमाकुमारीज वर्गीकत सेवायें


  1. स्पार्क [SPARC] प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  2. सुरक्षा सेवाएँ प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  3. कला, संस्कृति प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  4. खेल प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  5. ग्राम विकास प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  6. धार्मिक प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  7. न्यायविद प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  8. परिवहन और यात्रा प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  9. शिपींग और टुरिझाम की सेवाओं का समाचार
  10. प्रशासक सेवा प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  11. महिला सेवा प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  12. मीडिया प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  13. मेडिकल प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  14. युवा प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  15. वैज्ञानिक और इंजीनियर प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  16. व्यापार एवं उद्योग प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  17. शिक्षा प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  18. समाज सेवा प्रभाग की सेवाओं का समाचार
  19. राजनितीज्ञ सेवा प्रभाग सेवाओं का समाचार

  विश्व और भारत महत्वपूर्ण दिवस


 

Who's Online

We have 90 guests and no members online

हमारी अन्य महत्वपूर्ण लिंक्स्

नई टेक्नॉलॉजि(IT)

मनोरंजन