Articles

19-25 Nov धरोहर संरक्षा सप्ताह National earth sec. week

धरोहर संरक्षा सप्ताह: 19-25 नवंबर


केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के अंतर्गत भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा 19 से 25 नवंबर के बीच धरोहर संरक्षा सप्ताह मनाया जाता है. धरोहर संरक्षा सप्ताह मनाने का उद्येश्य आम लोगों में सांस्कृतिक व ऐतिहासिक धरोहरों के प्रति जागरूकता फैलाना है.

 

di-f�fm�D 0)rgia;color:black'> संभाल की जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष  18 अप्रैल को विश्व धरोहर दिवस के रूप में मनाया जाता है. वर्ष 2011 का विषय है- जल-एक सांस्कृतिक धरोहर. इसके तहत लोगों को भूजल के घटते स्तर के प्रति सावधान किया जायेगा और स्थानीय जल प्रणालियों को संरक्षित करने पर जोर दिया जायेगा.

 


भारत के 3650 से ज्यादा प्राचीन स्मारकों में से 28विरासत स्थल घोषित किए जा चुके हैं. केवल दिल्ली में ही 172 विरासत स्थल भारतीय पुरात्व सर्वेक्षण द्वारा संरक्षित हैं. बढ़ती जनसंख्या के कारण जमीन की भी बढ़ती मांग को देखते हुए इन पुरातात्विक खजानों को बचाने के उद्देश्य से इंडियन नेशनल ट्रस्ट फॉर आर्ट एंड कल्चरल हेरिटेज इन्टैक ने मार्च 2011 में सैन्ट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन के साथ एक योजना बनायी. इस योजना के तहत स्कूलों द्वारा कोई एक पुरातत्व स्थल अपनाया जाएगा और स्कूली बच्चों में विरासत स्थलों के प्रति जागरूकता लाई जाएगी.

 

st>�'o�%p,0.5pt;font-family:"Georgia","serif";color:black'> शक्ति योजना भी शामिल है. इस योजना के द्वारा ग्रामीण महिलाओं को सरकारी योजनाओं के साथ स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी उनके फोन पर उपलब्ध कराई जाती है.